scorecardresearch

उदयपुर मर्डर: ‘2611’ नंबर प्लेट लगी बाइक से आए थे हत्यारे, कन्हैया पर हमले के बाद हम लोग चिल्लाने लगे पर कोई नहीं आया- चश्मदीद ने सुनाई कत्ल की पूरी कहानी

रिपोर्ट्स के मुताबिक, मोहम्मद गौस दिसंबर 2014 में दावत-ए-इस्लामी के बुलावे पर 45 दिनों के एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पाकिस्तान गया था।

Kanhaiya-lal-murder
टेलर कन्हैयालाल (मध्य), हत्यारोपी रियाज और गौस मोहम्मद (फोटो- सोशल मीडिया)

नूपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया में कथित तौर पर पोस्ट डालने को लेकर राजस्थान के उदयपुर में कन्हैयालाल की नृशंस हत्या कर दी गई थी। घटना के मुताबिक, दोनों आरोपी गौस व रियाज ग्राहक बनकर कन्हैयालाल की दुकान पर पहुंचे, फिर मौका देखकर उन्होंने कन्हैया की बेरहमी से हत्या कर दी थी। इस घटना को लेकर जहां पूरे देश में आक्रोश देखने को मिल रहा है, वहीं रियाज और गौस के विदेशी कनेक्शन भी सामने आए हैं। इस बीच, एक चश्मदीद सामने आया है, जिसने कन्हैयालाल की दिनदहाड़े हत्या के मामले में बताया कि उस दिन क्या हुआ था।

कन्हैया लाल की दुकान पर काम करने वाले चश्मदीद ने इंडिया टुडे से बात करते हुए कहा कि दोनों आरोपी मोहम्मद रियाज और गौस मोहम्मद 2611 नंबर प्लेट लगी बाइक पर आए और दुकान के ठीक सामने उन्होंने बाइक सामने खड़ी कर दी। चश्मदीद शर्मा ने बताया, “जब वे दुकान में घुसे उस वक्त कन्हैयालाल, एक सहयोगी और मैं दुकान के अंदर मौजूद थे। वे कपड़े सिलवाने के बहाने आए थे। अचानक, उन्होंने कन्हैयालाल पर हमला कर दिया।” शर्मा ने बताया, “हम लोग मदद के लिए चिल्लाने लगे लेकिन बाहर से कोई भी हमारी मदद के लिए नहीं आया।”

इस वीभत्स हत्याकांड के बाद सीएम अशोक गहलोत ने मृतक के परिवार से मुलाकात की और हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। सीएम गहलोत ने पीड़ित परिवार को 50 लाख रुपए का चेक दिया। उन्होंने आश्वासन दिया कि फास्ट ट्रैक कार्यवाही के जरिए आरोपियों को जल्द से जल्द सजा दिलवाई जाएगी। सीएम ने कन्हैयालाल के दोनों बेटों को सरकारी नौकरी देने का ऐलान भी किया है।

उदयपुर की घटना की जांच एनआईए कर रही है। एनआईए की टीम हर एंगल से इस मामले की जांच कर रही है। शुरुआती जांच के मुताबिक, हत्यारोपी गौस मोहम्मद और रियाज ने 10 जून से 15 जून के बीच हमले की योजना बनाना शुरू कर दिया था। कन्हैयालाल के दुकान के पास रहने वाले “बबला भाई” ने करीब 10-11 लोगों की पहचान की थी और उन पर हमला करने के लिए अलग-अलग लोगों को काम भी सौंपा था।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

X