ताज़ा खबर
 

सड़क पर तड़प कर मर गए दो लड़के, गाड़ी गंदी न हो इस वजह से पुलिसवालों ने नहीं पहुंचाया अस्पताल

यूपी में 17 साल के दो लड़के सड़क पर तड़प-तड़प कर मर गए लेकिन पुलिस वाले उन्हें केवल इसलिए अस्पताल लेकर नहीं गए क्योंकि ऐसा करने से उनकी गाड़ी में खून के धब्बे पड़ जाते और वह गंदी हो जाती। इस घटना का वीडियो इस वक्त काफी वायरल हो रहा है।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर।

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में खाकी वर्दी को शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आई है। यहां 17 साल के दो लड़के सड़क पर तड़प-तड़प कर मर गए लेकिन पुलिस वाले उन्हें केवल इसलिए अस्पताल लेकर नहीं गए क्योंकि ऐसा करने से उनकी गाड़ी में खून के धब्बे पड़ जाते और वह गंदी हो जाती। इस घटना का वीडियो इस वक्त काफी वायरल हो रहा है। दरअसल, सहारनपुर में दो लड़कों का एक्सीडेंट हो गया था और वे दोनों ही सड़क पर खून से लथपथ पड़े हुए थे। पुलिस समय रहते घटना स्थल पर पहुंच गई थी, लेकिन खून के कारण गाड़ी गंदी ना हो जाए इसलिए दोनों लड़कों को अस्पताल नहीं ले जाया गया।

वीडियो में पुलिस के अलावा कुछ अन्य लोग भी दिख रहे हैं। इनमें से एक व्यक्ति यह कहता नजर आ रहा है कि, ‘यह दोनों भी किसी के बच्चे होंगे…. मैं निवेदन कर रहा हूं कि इन्हें अस्पताल ले जाया जाए।’ वीडियो में वह व्यक्ति पुलिसवालों के सामने विनती करता हुआ सुनाई दे रहा है। वहीं किसी व्यक्ति को यह कहते भी सुना जा सकता है कि ‘किसी अन्य व्यक्ति के पास कार नहीं है। इन्हें लेकर जाएं।’ वहां मौजूद लोग लगातार ही पुलिस से दोनों लड़कों को अस्पताल ले जाने की बात कहते सुनाई दे रहे हैं।

वीडियो में दिख रहा है कि कुछ लोग द्वारा घटनास्थल से गुजर रही बाकी गाड़ियों को भी रोकने की कोशिश की गई, लेकिन कोई भी गाड़ी मदद के लिए नहीं रुकी। एक व्यक्ति पुलिसवालों से यह कहता सुनाई दिया कि, ‘आपकी गाड़ी तो बाद में भी साफ हो जाएगी।’ जिस पर पुलिस वालों ने जवाब दिया, ‘अगर कार को धोया जाएगा तो हम लोग रात भर कहां बैठेंगे।’ कुछ समय बाद घटनास्थल पर लोकल पुलिस स्टेशन की एक अन्य गाड़ी आई, जिसमें दोनों लड़कों को अस्पताल ले जाया गया, लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। अस्पताल में दोनों ही लड़कों को मृत घोषित कर दिया गया। घटनास्थल पर मौजूद एक अन्य व्यक्ति ने चुपके से इस पूरे मंजर को अपने फोर में रिकॉर्ड कर लिया।

सहारनपुर सिटी पुलिस चीफ प्रबल प्रताप सिंह का कहना है कि उन्हें तीनों पुलिसवालों की हरकत का पता चल गया है। उन्होंने कहा, ‘हमारे लोगों पर आरोप लगा है कि उन्होंने मेडिकल हेल्प देने से इनकार कर दिया। वीडियो काफी वायरल हो रहा है। वीडियो को देखने पर प्रथम दृष्टया यह लग रहा है कि यह सभी आरोप सही हैं।’ प्रताप सिंह ने जानकारी दी है कि फिलहाल तीनों पुलिस वालों को निलंबित कर दिया गया है और उन पर आगे कार्रवाई की जाएगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App