ताज़ा खबर
 

जिस प्रतिमा की लोग पूजा करते थे उसपर अपशब्द लिख रहे थे दो युवक, भीड़ ने पहले पीटा फिर नंगा कर घुमाया

पुलिस का कहना है कि भगवतपारा इलाके के रहने वाले 25 वर्षीय दिलीप बवालिया और रंजीत माक्वाना उर्फ राणा ने मधाता भगवान की प्रतिमा के स्टैंड के ऊपर कुछ अपशब्द लिखे थे। गुरुवार की सुबह जब दोनों युवक अपशब्द लिख रहे थे, गांव वालों ने उन्हें ऐसा करते देख लिया था।

तस्वीर का प्रयोग प्रतीक के तौर पर किया गया है। (जनसत्ता फाइल फोटो)

गुजरात के राजकोट से बेहद ही चौंकाने वाला मामला सामने आया है। राजकोट के गोंडल के भगवतपारा इलाके में दो युवकों को देव प्रतिमा के स्टैंड के ऊपर अपशब्द लिखने के आरोप में पीटा गया और नंगा करके उनसे परेड करवाई गई। रिपोर्ट्स के मुताबिक गुरुवार के दिन दोनों युवक एक निश्चित समुदाय द्वारा पूजी जाने वाली प्रतिमा के स्टैंड पर अपशब्द लिख रहे थे, जिसके बाद लोगों की भीड़ भड़क गई और युवकों की पिटाई कर दी गई। पिटाई के बाद भीड़ ने दोनों युवकों को पुलिस के हवाले कर दिया।

पुलिस का कहना है कि भगवतपारा इलाके के रहने वाले 25 वर्षीय दिलीप बवालिया और रंजीत माक्वाना उर्फ राणा ने मधाता भगवान की प्रतिमा के स्टैंड के ऊपर कुछ अपशब्द लिखे थे। गुरुवार की सुबह जब दोनों युवक अपशब्द लिख रहे थे, गांव वालों ने उन्हें ऐसा करते देख लिया था। गोंडल पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी का कहना है, ‘दोनों युवकों को ऐसा करते देख लोग गुस्सा हो गए। मधाता भगवान की पूजा करने वाले समुदाय के लोगों ने युवकों के कपड़े उतारे, उनकी पिटाई की और उनसे प्रतिमा के स्टैंड पर लिखे अपशब्द मिटवाए, उसके बाद उन्हें पूरे गांव में नंगे होकर परेड करने पर विवश किया। उसके बाद दोनों को पुलिस के हवाले कर दिया गया।’

हालांकि बाद में समुदाय के लोगों और युवकों के बीच बातचीत करके पुलिस ने मसला हल करवा दिया और इस वक्त गोंडल के सरकारी अस्पताल में दोनों युवकों का इलाज चल रहा है। बता दें कि पुलिस ने युवकों की पिटाई करने के आरोप में गुजरात ठाकोर एंड कोली डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन के अध्यक्ष और गोंडल बीजेपी नेता भूपत मोहन दाभी समेत अन्य सात लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। पुलिस पहले शिकायत दर्ज नहीं कर रही थी, लेकिन जब पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तब पुलिस ने इस मामले में शिकायत दर्ज की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App