ताज़ा खबर
 

EVM पर चुनाव आयोग में लड़ाई: ‘दिल्ली’ के खिलाफ हाईकोर्ट गया बिहार निर्वाचन आयोग

बिहार निर्वाचन आयोग के मुताबिक, अभी तक केंद्रीय चुनाव आयोग ने ईवीएम से चुनाव कराने के लिए एनओसी नहीं दी है। इसी को लेकर विवाद पटना हाईकोर्ट पहुंच गया है।

Bihar, Election Commissionप्रतीकात्मक तस्वीर।

बिहार में पंचायत चुनाव की तैयारियां जोर-शोर से हो रही हैं। हाल ही में विधानसभा चुनाव सफल तरीके से आयोजित कराने के बाद चुनाव आयोग अब पंचायत के चुनावों में भी नई तैयारियों के साथ उतरना चाहता है। हालांकि, नए बदलावों को लेकर केंद्र और राज्य निर्वाचन आयोग के बीच ही ठन गई है। मुद्दा है मतदान के तरीके पर। दरअसल, बिहार का चुनाव आयोग इस बार पंचायत चुनाव ईवीएम से कराना चाहता है। नीतीश सरकार ने इसकी मंजूरी भी दे दी है। लेकिन ईवीएम की उपलब्धता बड़ी समस्या बनती नजर आ रही है।

राज्य निर्वाचन आयोग के मुताबिक, अभी तक केंद्रीय चुनाव आयोग ने ईवीएम से चुनाव कराने के लिए एनओसी नहीं दी है। इसी मसले पर दोनों का विवाद पटना हाईकोर्ट पहुंच गया है। माना जा रहा है कि अगर ईवीएम समय पर नहीं मिलतीं, तो पंचायत चुनाव की तारीखें आगे बढ़ सकती हैं। अभी इन चुनावों के मार्च से मई के बीच 9 चरणों में होने की संभावना है।

ईवीएम खरीदी के लिए जरूरी है चुनाव आयोग से एनओसी: गौरतलब है कि बिहार निर्वाचन आयोग ने पंचायत चुनाव के लिए इलेक्ट्ऱॉनिक कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (ECIL) से 15 हजार ईवीएम खरीदने का प्रस्ताव दिया है। हालांकि, परेशानी यह है कि ईवीएम उपलब्ध कराने से पहले भारतीय चुनाव आयोग से एनओसी लेनी होती है।

अब इसी एनओसी के लिए बिहार निर्वाचन आयोग ने पटना हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। याचिका में चुनाव आयोग के उस निर्देश को चुनौत दी गई है, जिसमें कहा गया था कि ईवीएम-वीवीपैट की आपूर्ति और डिजाइन की अनुमति देने से पहले उसकी मंजूरी लेना जरूरी होगा।

जून तक पूरी होनी है निर्वाचन प्रक्रिया: अगर पंचायत चुनाव के लिए ईवीएम की उपलब्धता सुनिश्चित नहीं हो पाती है। तो ऐसे में चुनाव का संभावित कार्यक्रम टालना पड़ सकता है। बिहार निर्वाचन आयोग को 15 जून तक चुनाव प्रक्रिया पूरी कर लेनी है। हालांकि, चुनाव टालने के सवाल पर अब तक कुछ भी साफ नहीं है।

Next Stories
1 यूपी में हमले की साजिश में थे PFI के 2 सदस्य, STF ने धरा; पुलिस बोली- हिंदू संगठन के लोग थे टारगेट पर
2 बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने रिंकू शर्मा के घर जाकर मर्डर को बताया जिहाद, सांसद प्रज्ञा भी पहुँचीं
3 राजस्थानः कैदी आसाराम का बिगड़ा स्वास्थ्य! घुटने भी नहीं कर रहे काम, जेल के बाहर जुटने लगे समर्थक
यह पढ़ा क्या?
X