ताज़ा खबर
 

तुर्क पंचायत का बड़ा फैसला: तीन तलाक देने वाले पर लगाया दो लाख रुपए का जुर्माना

उत्तर प्रदेश के सम्भल जिले में मुसलमानों की तुर्क बिरादरी की पंचायत ने एक ही बार में तीन तलाक कहने वाले व्यक्ति को फटकार लगाते हुए उस पर दो लाख रपये का जुर्माना लगाया है।

Author संभ्भल | June 12, 2017 12:47 PM
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है (तस्वीर- इंडियन एक्सप्रेस)

उत्तर प्रदेश के सम्भल जिले में मुसलमानों की तुर्क बिरादरी की पंचायत ने एक ही बार में तीन तलाक कहने वाले व्यक्ति को फटकार लगाते हुए उस पर दो लाख रपये का जुर्माना लगाया है। पंचायत की अध्यक्षता करने वाले शाहिद हुसैन ने आज ेभाषो को बताया कि सदिरनपुर गांव निवासी 22 वर्षीय एक युवती का निकाह मूसापुर गाँव के 45 साल के एक व्यक्ति से एक साल पहले हुआ था। निकाह के बाद से ही पति-पत्नी के रिश्तों में तल्खी रहने लगी थी। करीब दस दिन पहले दोनों की आपस में कहा-सुनी हुई जिसके बाद पति ने गुस्से में तीन बार तलाक कह दिया।

उन्होंने बताया कि इस मामले को लेकर तुर्क बिरादरी की पंचायत कल सम्भल के रायसती स्थित मदरसा खलील उल उलूम में सम्पन्न हुई। इसमें 52 गांव के तुर्क बिरादरी के लोग शामिल हुए थे। पंचायत में सभी के बीच चर्चा हुई, जिसमें पंचायत ने एक साथ तीन तलाक देने को गंभीर मामला माना और तीन तलाक देने वाले व्यक्ति पर सर्वसम्मति से दो लाख रपये का जुर्माना लगाया गया। उस व्यक्ति ने पंचायत की बात मानते हुए मौके पर ही जुर्माने की रकम अदा कर दी। हुसैन ने बताया कि पंचायत ने मेहर के तौर पर 60 हजार रपये तथा दहेज में दिया गया सोफा, बेड, मोटरसाइकिल, बर्तन इत्यादि सारा सामान लड़की पक्ष को वापस दिलाया।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 7 32 GB Black
    ₹ 41999 MRP ₹ 52370 -20%
    ₹6000 Cashback
  • Honor 7X Blue 64GB memory
    ₹ 16010 MRP ₹ 16999 -6%
    ₹0 Cashback

मालूम हो कि तुर्क बिरादरी ने एक साथ तीन तलाक कहने पर अपने समाज में पहले ही रोक लगा रखी थी। उसके बाद आये तीन तलाक के इस पहले मामले में पंचायत ने बड़ा जुर्माना लगा कर समाज को कड़ा संदेश दिया है। ज्ञातव्य है कि तुर्क बिरादरी के लोगों ने अपने समाज में दहेज प्रथा, शादियों में फुजूल खर्ची, शादियों में डीजे या डांस पार्टी बुलाने इत्यादि पर पाबंदी लगा रखी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App