ताज़ा खबर
 

रेलवे फाटक तोड़कर दौड़ती रही राजधानी एक्सप्रेस

मध्यप्रदेश के झाबुआ जिले में गुरुवार सुबह बड़ा हादसा टल गया, जब तेज रफ्तार से जा रहा एक ट्रक रेलवे फाटक तोड़ते हुए दौड़ती त्रिवेंद्रम-निजामुद्दीन राजधानी एक्सप्रेस से टकरा गया।

Author October 18, 2018 3:31 PM
मध्यप्रदेश के झाबुआ जिले में गुरुवार सुबह बड़ा हादसा टल गया, जब तेज रफ्तार से जा रहा एक ट्रक रेलवे फाटक तोड़ते हुए दौड़ती त्रिवेंद्रम-निजामुद्दीन राजधानी एक्सप्रेस से टकरा गया।

मध्यप्रदेश के झाबुआ जिले में गुरुवार सुबह बड़ा हादसा टल गया, जब तेज रफ्तार से जा रहा एक ट्रक रेलवे फाटक तोड़ते हुए दौड़ती त्रिवेंद्रम-निजामुद्दीन राजधानी एक्सप्रेस से टकरा गया। हादसे में ट्रक ड्राइवर की मौत हो गयी, जबकि रेलगाड़ी के दो डिब्बे पटरी उतर गये। दुर्घटना में सभी रेल यात्री सुरक्षित बताये जा रहे हैं। पश्चिम रेलवे के रतलाम मंडल के एक जनसंपर्क अधिकारी ने बताया कि हादसा दाहोद-रतलाम रेल खंड पर मेघनगर और थांदला रोड स्टेशनों के बीच हुआ। यह स्थान इंदौर से करीब 175 किलोमीटर दूर है। उन्होंने बताया कि तेज रफ्तार से जा रहा ट्रक रेलवे फाटक तोड़ते हुए राजधानी एक्सप्रेस (12431) से सुबह करीब पौने सात बजे टकराया। हादसे में ट्रक ड्राइवर की मौके पर ही मौत हो गयी। इसके साथ ही, यात्री रेलगाड़ी के दो कोच (इ-7 और इ-8) पटरी से उतर गये। टक्कर इतनी भीषण थी कि ट्रक के ड्राइवर कैबिन के परखच्चे उड़ गये।

अधिकारी ने कहा कि फिलहाल इस हादसे में किसी भी रेल यात्री के हताहत होने की कोई सूचना नहीं है। हालांकि, हादसे की जानकारी मिलते ही वरिष्ठ रेल अधिकारियों का दल दुर्घटना राहत ट्रेन और चिकित्सा राहत ट्रेन के साथ मौके पर पहुंच गया।  उन्होंने कहा कि हादसे से प्रभावित रेल यातायात को जल्द से जल्द बहाल करने की कोशिश की जा रही है। इस घटना से संबंधित रेल खंड पर अब तक करीब पांच रेलगाड़ियों की आवा-जाही प्रभावित हुई है।

इस बीच, झाबुआ के पुलिस अधीक्षक महेशचंद्र जैन ने “पीटीआई-भाषा” को बताया कि तेज रफ्तार से जा रहा ट्रक सजेली रोड स्थित बंद रेलवे फाटक को तोड़कर दौड़ती राजधानी एक्सप्रेस से टकराया। अचानक ब्रेक लगाये जाने के बाद ट्रेन दुर्घटनास्थल के करीब एक किलोमीटर आगे जा कर रुकी। इससे ट्रेन के दो डिब्बों के पहिये पटरी से उतर गये।
उन्होंने बताया कि दुर्घटनास्थल पर स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है। पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारी मौके पर हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App