ताज़ा खबर
 

झारखंड: ट्रेन के गार्ड की हत्या, ट्रेनों का परिचालन बाधित

बरकाकाना स्टेशन से बड़वाडीह रेलवे स्टेशन जा रही मालगाड़ी में हुई इस घटना को लेकर आंदोलनरत कर्मियों ने पूर्व-मध्य रेलवे कर्मचारी संघ के बैनर तले प्रदर्शन किया और रेल परिचालन रोका।

Author लातेहर/धनबाद (झारखंड) | February 27, 2016 10:33 PM
लातेहर में पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि राम की पीट-पीटकर हत्या की गई।

लातेहर जिले में एक चलती ट्रेन में मालगाड़ी के एक गार्ड की हत्या के बाद सुरक्षा की मांग को लेकर नाराज रेलवे कर्मियों के आंदोलन के कारण पूर्व-मध्य रेलवे की कोल इंडिया कॉर्ड (सीआइसी) खंड पर करीब आठ घंटे तक ट्रेनों का परिचालन रोक दिया गया। धनबाद में रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि कोयले से लदी मालगाड़ी के गार्ड एनएल राम ने जब बड़वाडीह रेलवे स्टेशन मास्टर से सिग्नल के लिए संपर्क नहीं किया तो इस हत्या का पता चला।

रेलवे कर्मियों ने उनकी तलाश शुरू की और खून से लथपथ उनका शव बरामद किया। लातेहर में पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि राम की पीट-पीटकर हत्या की गई। घटना की सूचना मिलने पर डीआरएम बीबी सिंह और खंड के सुरक्षा आयुक्त एनए झा अन्य अधिकारियों के साथ रात में मौके पर पहुंचे। अधिकारी ने बताया कि डीआरएम ने राज्य के अधिकारियों से बात करने के बाद आंदोलनरत कर्मियों को समुचित सुरक्षा का आश्वासन दिया क्योंकि कानून व्यवस्था राज्य सरकार के दायरे में आती है।

बरकाकाना स्टेशन से बड़वाडीह रेलवे स्टेशन जा रही मालगाड़ी में हुई इस घटना को लेकर आंदोलनरत कर्मियों ने पूर्व-मध्य रेलवे कर्मचारी संघ के बैनर तले प्रदर्शन किया और रेल परिचालन रोका। डीआरएम का आश्वासन मिलने पर करीब आठ घंटे बाद शनिवार सुबह सात बजे धनबाद रेल खंड के सीआइसी खंड पर ट्रेनों का परिचालन बहाल हुआ। धनबाद रेल खंड का सीआइसी खंड एक नक्सल प्रभावित इलाका है। सुरक्षा आयुक्त ने धनबाद में मीडियाकर्मियों को बताया कि दोषी को पकड़ने के लिए स्थानीय पुलिस की मदद से जांच शुरू की गई है। ईसीआरकेयू के महासचिव संतोष तिवारी ने चेतावनी दी कि प्रबंधन सुरक्षा देने में नाकाम रहा तो ट्रेनों का परिचालन अवरुद्ध कर दिया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App