ताज़ा खबर
 

डेरा के 504 खातों में मिले 75 करोड़ रुपये, राम रहीम और हनीप्रीत के खातों में मिला इतना पैसा

हरियाणा सरकार ने पूरे राज्य में डेरा की संपत्तियों की सूची को संकलित किया है। इसमें पता चला है कि डेरा के पास सिर्फ सिरसा में 1,435 करोड़ की अचल संपत्ति है।

Author Updated: September 21, 2017 10:37 AM
बलात्कारी बाबा राम रहीम के साथ हनीप्रीत।

डेरा सच्चा सौदा के विभिन्न बैंक खातों में 74.96 करोड़ रुपये मिले हैं। जबकि डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम के नाम 12 खातों में 7.72 करोड़ रुपये हैं। उनकी ‘गोद ली हुई बेटी’ हनीप्रीत के 6 बैंक खातों में 1 करोड़ रुपये मिले हैं। वहीं सबसे ज्यादा 50 करोड़ का बैंक बैलेंस राम रहीम की प्रोडक्शन कंपनी हकीकत एंटरटेनमेंट के 20 खातों से मिले हैं। ये डेरा और उससे जुड़ी विभिन्न संस्थाओं के उन 504 बैंक खातों की जानकारी है, जिसे हरियाणा सरकार ने संकलित किया है। इनमें ले 473 सेविंग्स और टर्म डिपॉजिट अकाउंट्स, जबकि अन्य खाते हैं।

हरियाणा सरकार ने पूरे राज्य में डेरा की संपत्तियों की सूची को संकलित किया है। इसमें पता चला है कि डेरा के पास सिर्फ सिरसा में 1,435 करोड़ की अचल संपत्ति है। 504 बैंक खातों में से 495 सिरसा में हैं। ज्यादातर फिक्स डिपॉजिट और संचित जमा खाते राम रहीम, उनकी बेटियों अमरप्रीत और चरणप्रीत, बेटा जसमीत, उसकी पत्नी, हनीप्रीत, डेरा सच्चा सौदा ट्रस्ट और उसके जुड़ी संस्थाओं के नाम पर हैं। राज्य सरकार ने इन सभी खातों को जब्त कर लिया है।

किसके नाम कितनी प्रॉपर्टी: सिरसा जिले में राम रहीम के नाम 12 बैंक खाते और एचडीएफसी बैंक में 11 फिक्स डिपॉजिट्स हैं। इनमें से एक 1.50 करोड़ का है। जबकि अन्य खातों में पैसा 35 साल से 95 लाख के बीच है। वहीं फरार चल रहीं हनीप्रीत के ओरियंटल बैंक अॉफ कॉमर्स में 6 बैंक खाते हैं, जिनमें से 4 संचित जमा खाते हैं। इनमें 50 लाख, 40 लाख, 3.16 लाख और 10 लाख रुपये हैं। एक बचत खाते में 64,225 और दूसरे में 3,530 रुपये हैं।

वहीं हकीकत एंटरटेनमेंट, जिसने राम रहीम की फिल्में बनाई हैं के 13 फिक्स डिपॉजिट खाते हैं, जिनका क्रेडिट बैलेंस 48 करोड़ रुपये हैं। 6 संचित जमा खातों में बैलेंस 1.04 करोड़ और एक करंट अकाउंट में 18.17 लाख रुपये हैं। जो लोन लिए गए हैं, उनकी कोई जानकारी बैंक रिकॉर्ड्स में नहीं है। ओबीसी से हनीप्रीत ने 50 लाख का टर्म लोन लिया था। राम रहीम के 1.46 करोड़ रुपये के 3 लोन हैं, जिसमें से दो एचडीएफसी और एक ओबीसी में है। डीजीपी बीएस संधु ने कहा कि इस मामले के लिए एक स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम यानी एसआईटी बनाई गई है, जो बाद में अपनी रिपोर्ट सौंपेगी। डेरा के नवनियुक्त प्रवक्ता संदीप मिश्रा ने कहा, मामले की जांच जारी है। इस वक्त मामले पर मेरा कुछ कहना सही नहीं होगा।

देखें वीडियो ः

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्‍या!
X