ताज़ा खबर
 

TMC नेताओं ने लौटाई 1.5 लाख रुपए की कट मनी, कहा- पार्टी चलाने के कमीशन लिया था, निजी इस्तेमाल के लिए नहीं

पूर्वी बर्धमान जिले में तृणमूल कांग्रेस के छह स्थानीय नेताओं ने लोगों से कमीशन के तौर पर लिए 1.5 लाख रुपए की राशि लौटाई। स्थानीय लोगों ने बताया कि उन्होंने 32 लाभार्थियों से ली गई 1.5 लाख रुपए की राशि लौटा दी है।

Author बर्धमान | July 9, 2019 1:18 PM
tmc flagतृणमूल कांग्रेस का झंडा फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

जनता के विरोध प्रदर्शनों के दबाव में आकर पूर्वी बर्धमान जिले में तृणमूल कांग्रेस के छह स्थानीय नेताओं ने लोगों से कथित ‘कट मनी’ (कमीशन) के तौर पर लिए गए 1.5 लाख रुपए वापस लौटा दिए। केतुग्राम के लोगों का आरोप था कि तृणमूल कांग्रेस के इन नेताओं ने नबग्राम पंचायत के शिबलून गांव में सरकारी आवास योजना के 45 लाभार्थियों से अवैध तरीके से ‘कमीशन’ लिया है।

नेताओं ने स्वीकारी कट मनी वाली बातः गांव में हाल ही में हुई एक बैठक में आरोप झेल रहे इन नेताओं ने लाभार्थियों से वादा किया था कि वे कमीशन के रूप में ली गई राशि लौटाएंगे। स्थानीय लोगों ने बताया कि उन्होंने 32 लाभार्थियों से ली गई 1.5 लाख रुपए की राशि लौटा दी है। इन नेताओं ने स्वीकार किया कि उन्होंने यह ‘कट मनी’ (कमीशन) ली है। हालांकि, उनका कहना है कि यह पार्टी चलाने के लिए ली गई है, उसका कोई निजी इस्तेमाल नहीं किया गया।
National Hindi News, 09 July 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

तृणमूल कांग्रेस ने भाजपा पर लगाया आरोपःवहीं नबग्राम पंचायत में तृणमूल कांग्रेस में भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए भाजपा के जिला सचिव अनिल दत्ता ने कहा कि अगर ये लोग लाभार्थियों को उनका पैसा नहीं लौटाते हैं तो पार्टी प्रदर्शन करेगी। केतुग्राम से तृणमूल कांग्रेस के विधायक शेख शाहनवाज ने भाजपा पर आरोप लगाया कि वह तृणमूल कांग्रेस के नेताओं के खिलाफ साजिश कर रही है। बता दें कुछ समय पहले ममता बनर्जी ने टीएमसी काउंसलर्स के साथ बैठक की थी। बैठक में उन्होंने कहा था,’ मैं नहीं चाहतीं कि उनकी चोर उनकी पार्टी में रहें। अगर मैंने कार्रवाई की तो वो किसी दूसरी पार्टी में शामिल हो जाएंगे। कुछ नेताओं का कहना है कि गरीबों को घर दिलाने के बदले 25 प्रतिशत कमीशन लिया जा रहा है। यह तुरंत बंद होना चाहिए। यदि किसी ने पैसे लिए हैं, तो उन्हें तुरंत लौटा दें।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 गवर्नर से शिकायत- सैलरी लेकर काम करने दफ्तर नहीं जा रहे सिद्धू, सरकारी सेवाओं का उठा रहे मजा
2 गुजरात सरकार के नौकरियां देने में 5 साल में 85 फीसदी की गिरावट
3 ओडिशा सरकार का बड़ा फैसला, गरीबी से जूझ रहे पद्म पुरस्कार अवॉर्डियों को हर महीने देंगे 10 हजार रुपए
ये पढ़ा क्या?
X