ताज़ा खबर
 

पब्लिक को तीर्थ कराने पर रोज 18.55 लाख खर्च रही पंजाब सरकार, ट्रांसपोर्ट मंत्री बोले-कम पड़ा फंड तो ईश्‍वर करेगा इंतजाम

मुख्‍यमंत्री तीर्थ योजना के तहत लोगों को निशुल्‍क धार्मिक स्‍थलों पर भेजने के लिए वित्‍त वर्ष 2016-17 में 140 करोड़ रुपए की रकम का प्रावधान किया गया है।
Author लुधियाना | April 18, 2016 18:16 pm
रविवार को एक ट्रेन 1 हजार यात्रियों को लेकर नांदेड़ स्‍थ‍ित श्री हुजूर साहिब के लिए लुधियाना से रवाना हुई। (Gurmeet Singh)

पंजाब सरकार अपने मुख्‍यमंत्री तीर्थ योजना के तहत लोगों को निशुल्‍क धार्मिक स्‍थलों पर भेजने के लिए हर रोज 1855 रुपए प्रति यात्री के हिसाब से आईआरसीटीसी (इंडियन रेलवेज कैटरिंग एंड टूरिजम कॉरपोरेशन लिमिटेड) को चुका रही है। आरटीआई के तहत मांगी गई एक जानकारी में इस बात का खुलासा हुआ है। इस बात की पुष्‍ट‍ि राज्‍य के मुख्‍य सचिव (परिवहन) वेंकट रमण ने भी की है। उन्‍होंने द इंडियन एक्‍सप्रेस से कहा, ”आईआरसीटीसी के साथ हुए समझौते के मुताबिक, हम उन्‍हें हर रोज 1855 रुपए प्रति यात्री के हिसाब से चुका रहे हैं। इसमें यात्रियों का सफर, खानपान, रहने और स्‍थानीय ट्रांसपोर्टेशन का खर्च शामिल है।”

बता दें कि वित्‍त वर्ष 2015-16 में इस स्‍कीम में 46 करोड़ 50 लाख रुपए खर्च किए जा चुके हैं। वित्‍त वर्ष 2016-17 के लिए 140 करोड़ रुपए की रकम का प्रावधान किया गया है। यह एलान वित्‍त मंत्री परमिंदर सिंह ढींढसा ने किया है। इस स्‍कीम के तहत पंजाब सरकार को करीब 187 करोड़ रुपए खर्च करने होंगे। इस योजना के तहत, ट्रेनें औसतन एक हजार लोगों को श्री हुजूर साहिब, अजमेर शरीफ, वाराणसी की यात्रा कराती है। हाल ही में ईसाई श्रद्धालुओं को लेकर एक ट्रेन चेन्‍नई गई। इसकी वजह से राज्‍य सरकार को एक दिन में 18 लाख 55 हजार रुपए खर्च करने पड़ रहे हैं। रविवार को एक ट्रेन 1 हजार यात्रियों को लेकर नांदेड़ स्‍थ‍ित श्री हुजूर साहिब के लिए लुधियाना से रवाना हुई।

सरकार का यह भी प्रस्‍ताव है कि पंजाब रोड ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन श्रद्धालुओं को राजस्‍थान के सालासर और हिमाचल प्रदेश के चिंतपूरनी की सैर कराएगा। यह भी पूरी तरह से निशुल्‍क होगा। पहले से घाटे में चल रही पंजाब ट्रांसपोर्ट को इन श्रद्धालुओं के लिए रहने और खानेपीने का भी इंतजाम करना होगा। यह जानकारी भी आरटीआई के माध्‍यम से शहर के एक सामाजिक कार्यकर्ता ने हासिल की है। सालासर के लिए बस सर्विस तो शुरू भी हो चुकी है। ट्रांसपोर्ट मंत्री अजीत सिंह कोहर ने दावा किया, ”अगर 140 करोड़ रुपए का फंड खत्‍म भी हो गया तो ईश्‍वर और ज्‍यादा रकम उपलब्‍ध कराएगा और स्‍कीम जारी रहेगी।”

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.