ताज़ा खबर
 

खूंखार आतंकी संगठन ISIS से ट्रेनिंग लेकर लौटे तीन संदिग्ध केरल में गिरफ्तार

पुलिस उप अधीक्षक ने बताया कि इन तीनों के फोन काल की जांच की गई और उससे मिली जानकारी और प्रमाणों के आधार पर उन्हें गिरफ्तार किया गया है।

इस तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

पुलिस ने बताया कि आतंकी समूह इस्लामिक स्टेट से संदिग्ध रूप से जुड़े तीन व्यक्तियों को बुधवार को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने बताया कि यह तीनों कई साल पहले राज्य छोड़कर चले गए थे। बताया जाता है कि तीनों सीरिया गए थे और वहां उन्होंने आतंकी संगठन से प्रशिक्षण हासिल किया था। कन्नूर के पुलिस उप अधीक्षक सदानंदन ने कहा, ‘‘तीनों, मितिलज, अब्दुल रज्जाक और राशिद 25 से 30 साल की उम्र के हैं और उन्हें इस्लामिक स्टेट समूह से जुड़े होने के संदेह के कारण बुधवार दोपहर बाद करीब तीन बजे गिरफ्तार कर लिया गया।’’

उन्होंने बताया, ‘‘तीनों के फोन काल की जांच की गई और उससे मिली जानकारी और प्रमाणों के आधार पर उन्हें गिरफ्तार किया गया है। आगे की जांच की जा रही है।’’ पुलिस ने बताया कि ये तीनों जिले के चक्करक्कल और वलपट्टिनम के रहने वाले हैं और हाल में ही तुर्की से वापस लौटे हैं। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) कुछ समय पहले रहस्यमयी परिस्थितयों में कम से कम 21 लोगों के लापता होने के मामले की जांच कर रही है। आशंका है कि ये लापता लोग आईएसआईएस समूह में शामिल हो गए थे। इनमें से 17 लोग कासरगोड के रहने वाले हैं और चार लोग पलक्कड के हैं। इसमें तीन महिलाएं और तीन बच्चे भी शामिल हैं।

उल्लेखनीय है कि कुछ दिनों पहले ही आईएसआईएस के लिए काम करने वाली महिला करेन आयशा हामिदन को राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NBI) ने फिलीपींस से गिरफ्तार किया है। आयशा हामिदन फिलीपींस आतंकवादी नेता मोहम्मद जाफार मैकिड की विधवा है। हामिदन का काम संगठन में नए आतंकियों की भर्ती करना था। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने फिलीपींस सरकार से हामिदन के बारे में जानकारी और सुबूत जुटाने के लिए मदद मांगी थी। जिसके बाद से फिलीपींस की राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NBI) आयशा हामिदन को लेकर काफी अलर्ट हो गई थी। एनआईए को इस बात पर पहली बार शक तब हुआ जब भारत में गिरफ्तार किए गए दो आईएस आतंकियों मोहम्मद सिराजुद्दीन और मोहम्मद नासिर का लिंक हामिदन के साथ जोड़ा गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App