ताज़ा खबर
 

बरेली में आग लगने से परिवार के मुखिया और दो बच्चों की मौत

थाना भोजीपुरा के लखमपुर गांव में शुक्रवार को आधी रात के बाद राजाराम उर्फ राजू के घर में लगी आग से परिवार के मुखिया सहित तीन लोगों की जलकर मौत हो गई। परिवार के दो लोगों का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है।

Author बरेली | May 6, 2018 03:00 am
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।

थाना भोजीपुरा के लखमपुर गांव में शुक्रवार को आधी रात के बाद राजाराम उर्फ राजू के घर में लगी आग से परिवार के मुखिया सहित तीन लोगों की जलकर मौत हो गई। परिवार के दो लोगों का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है। उनकी हालत भी नाजुक बताई जा रही है। केंद्रीय श्रम एवं राज्यमंत्री संतोष गंगवार ने जिला अस्पताल का दौरा कर हादसे के शिकार हुए परिवार के रिश्तेदारों को ढाढस बंधाया और इलाज में कोई कोताही न होने का भरोसा दिया है। जिलाधिकारी वीके सिंह ने मृतकों को चार-चार लाख रुपए का मुआवजा देने का एलान किया है। थाना भोजीपुरा के प्रभारी निरीक्षक राजेश सिंह ने बताया कि शुक्रवार की रात को लखमपुर गांव का राजाराम अपनी पत्नी लक्ष्मी और तीन बच्चों नितिन(12), चांदनी(8), और लकी(6) के साथ खाना खाकर अपने एक कमरे के मकान को अंदर से बंद करके सोया था।

आधी रात के बाद गांव के लोगों ने मकान को जलते देखा तों घर का दरवाजा तोड़कर इसे बुझाने का प्रायास किया। लोगों ने बाल्टियों से पानी डालकर किसी तरह आग को बुझाया है। थाना पुलिस और फायर ब्रिगेड को भी सूचना दी। लेकिन फायर ब्रिगेड के पहुंचने से पहले गांव के लोग आग बुझा चुके थे। घर में आग भड़कने के बाद इतना धुआं भर गया जिससे परिवार के लोग अचेत हो गए।

उन्होंने दरवाजा खोलकर बाहर निकलने का प्रयास भी नहीं किया। इसी वजह से लोगों को मकान का दरवाजा तोड़कर आग बुझानी पड़ी है। उन्होंने यह भी बताया कि फिलहाल बिजली के शार्ट सर्किट से आग लगने की बात मानी जा रही है। लेकिन जांच के बाद ही असलियत सामने आएगी। पुलिस ने आग से झुलसे परिवार के सभी लोगों को इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया।

लेकिन अस्पताल पहुंचते ही डाक्टरों ने परिवार के मुखिया राजाराम उर्फ राजू को मृत घोषित कर दिया। जिला अस्पताल में इलाज के दौरान दो बच्चों नितिन और चांदनी की मौत हो गई। पत्नी लक्ष्मी और बेटे लकी का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App