ताज़ा खबर
 

Mumbai: ओवरलोडेड ट्रक की वजह से टूटा सेप्टिक टैंक का कवर और गटर में समा गए 3 बच्चे व एक महिला

चेंबूर के वाशी नाका इलाके की एमएचएडीए में एक लाइब्रेरी का निर्माण हो रहा है। बुधवार सुबह करीब 10 बजे कंस्ट्रक्शन मैटीरियल लेकर आया ट्रक सेप्टिक टैंक के कवर से टकरा गया। इससे वह कवर टूट गया और उस पर खड़े 3 बच्चे व एक महिला गटर के अंदर जा गिरे।

मुंबई के वाशी नाका स्थित एमएचएडीए कॉलोनी में हुआ हादसा। फोटो सोर्स : इंडियन एक्सप्रेस

मुंबई के चेंबूर स्थित वाशी नाका की एमएचएडीए कॉलोनी में ओवरलोडेड ट्रक की वजह से बुधवार सुबह (3 अप्रैल) सेप्टिक टैंक का कवर टूट गया। इस दौरान ट्रक के पीछे खड़े 3 बच्चे और एक महिला गटर में समा गए। मामले की जानकारी मिलते ही स्थानीय लोग एकजुट हो गए और 2 बच्चों को बाहर निकाल लिया। वहीं, 11 साल की बच्ची और एक महिला को रेस्क्यू करने के लिए फायर ब्रिगेड को बुलाया गया। इस हादसे में दोनों घायल हो गईं। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है।

ऐसे हुआ हादसा : पुलिस के मुताबिक, चेंबूर के वाशी नाका इलाके की एमएचएडीए में एक लाइब्रेरी का निर्माण हो रहा है। बुधवार सुबह करीब 10 बजे कंस्ट्रक्शन मैटीरियल लेकर आया ट्रक सेप्टिक टैंक के कवर से टकरा गया। इससे वह कवर टूट गया और उस पर खड़े 3 बच्चे व एक महिला गटर के अंदर जा गिरे।

National Hindi News, 4 April 2019 LIVE Updates: दिनभर की हर खबर सिर्फ एक क्लिक पर

फायर ब्रिगेड को दी गई सूचना : बुधवार सुबह करीब 10 बजे स्थानीय लोगों ने एक सेप्टिक टैंक का कवर टूटने और उसमें 4 लोगों के गिरने की जानकारी फायर ब्रिगेड को दी। मामले की जानकारी मिलते ही फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर पहुंच गई। हालांकि, तब तक स्थानीय लोग 2 बच्चों को बाहर निकाल चुके थे।

टीम ने 2 लोगों को रेस्क्यू किया : प्रत्यक्षदर्शियों ने फायर ब्रिगेड की टीम बताया कि एक महिला और एक बच्ची अब भी गटर में फंसी हुई हैं। टीम ने तुरंत उन्हें बाहर निकाला। बच्ची का नाम मरियम शेख बताया जा रहा है। वहीं, महिला की पहचान अरुणा मांडवकर के रूप में हुई। काफी देर तक गटर में फंसे रहने के कारण उनकी हालत खराब थी। ऐसे में उन्हें सायन हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। डॉक्टरों के मुताबिक, दोनों की हालत अब खतरे के बाहर है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App