ताज़ा खबर
 

अंबाला एयरबेस पर राफेल पर मंडरा रहा खतरा, IAF ने खट्टर सरकार से की गुजारिश, जल्द हटाएं कूड़ों का ढेर

मुख्य सचिव ने भारतीय वायु सेना की अपील पर कार्रवाई के लिए शहरी स्थानीय निकाय विभाग को पत्र भेजा है।

Author Translated By Ikram चंडीगढ़ | September 2, 2020 11:08 AM
Ambala IAFअंबाला में एयर फोर्स बेस पर राफेल लड़ाकू विमान। (Source: @DefenceMinIndia Twitter)

भारतीय वायु सेना (IAF) ने हरियाणा सरकार से अपील की है कि अंबाला एयर फोर्स स्टेशन के आसपास पड़े कूड़ों का ढेर हटाने के लिए कोई उपाय करे, क्योंकि इससे पक्षी आसपास मंडराते रहते हैं और राफेल की सुरक्षा को खतरा पैदा हो सकता है। आईएएफ के निरीक्षण और सुरक्षा के महानिदेशक एयर मार्शल मानवेंद्र सिंह ने इस संबंध में हरियाणा मुख्य सचिव के. आनंद अरोड़ा को पत्र लिखा है।

पत्र में कहा गया कि 29 जुलाई को अंबाला एयर फोर्स स्टेशन पर पहुंचे राफेल एयरक्राफ्ट की सुरक्षा पर वायु सेना का सबसे अधिक ध्यान है। इसमें आगे कहा गया कि अंबाला एयर फोर्स स्टेशन के आसपास पक्षियों का जमावड़ा बहुत अधिक है और अगर लड़ाकू विमान से इनकी टक्कर होती है तो बहुत गंभीर नुकसान की आशंका है। अंबाला हवाई क्षेत्र में पक्षियों की गतिविधि आसपास के क्षेत्र में कचरे की उपस्थिति से संबंधित है। पत्र में उसी को हटाने के लिए कई उपायों की शिफारिश की गई है। इस संबंध में एयर ऑफिसर, कमांडिंग एयर फोर्स स्टेशन अंबाला ने संयुक्त आयुक्त व अंबाला के अपर नगर आयुक्त से मुलाकात भी की।

पत्र में आगे कहा गया कि लड़ाकू विमान की सुरक्षा के लिए बड़े और छोटे पक्षियों को हवाई क्षेत्र से दूर रखा जाएगा। ऐसे में वायु सेना ने अंबाला एयरफील्ड के आसपास दस किलोमीटर के दायरे में सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट (एसडब्ल्यूएम) योजना का तत्काल कार्यान्वयन की मांग की है। ताकि अंबाला एयरफील्ड के आसपास पक्षियों की गतिविधि को कम किया जा सके।

पत्र में आगे कहा गया कि इसमें कूड़ा डालने पर जुर्माना, कूड़ा संग्रहण में सुधार करना और हवाई क्षेत्र से उपयुक्त दूरी पर एसडब्ल्यूएम संयंत्र स्थापित करना शामिल हैं। पत्र में अंबाला एयर फोर्स स्टेशन के आसपास कबूतर उड़ाने को नियंत्रित करने को भी कहा गया है।

पता चला है कि मुख्य सचिव ने भारतीय वायु सेना की अपील पर कार्रवाई के लिए शहरी स्थानीय निकाय विभाग को पत्र भेजा है। मामले में जब राज्य के शहरी स्थानीय निकाय विभाग मंत्री अनिल विज से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि राज्य सरकार से वायु सेना ने जो भी मदद मांगी है, वो मुहैया कराई जाएगी।

Next Stories
1 दो दलित नेताओं के रुख से उलझन में बिहार की राजनीति, दो हफ्ते बाद भी जीतनराम मांझी की एनडीए में नहीं हो सकी वापसी
2 गुजरात में गोहत्या, शराब कारोबारियों को ही सकती है दस साल तक की क़ैद- अध्यादेश लाने जा रही सरकार
3 COVID सेंटर के 900 डॉक्टरों ने दिया इस्तीफा: 42 हजार रुपए/माह पर रखे गए थे, पर मिले 27 हजार
ये पढ़ा क्या?
X