ताज़ा खबर
 

‘वंदे मातरम स्वीकार न करने वालों को भारत में रहने का हक नहीं’, मोदी सरकार के मंत्री प्रताप सारंगी की राय

केंद्रीय पशुधन,डेरी और मत्स्यपालन मंत्री प्रताप चंद्र सारंगी ने कहा कि जो लोग वंदेमातरम को नहीं स्वीकार करते हैं, उन्हें देश में रहने का कोई अधिकार नहीं है। वह भुवनेश्वर में आयोजित जनजागरण सभा में धारा 370 खत्म करने पर बोल रहे थे। कहा कि यह ऐतिहासिक कदम है।

Author भुवनेश्वर | Published on: September 22, 2019 11:19 AM
केंद्रीय मंत्री प्रताप सारंगी (फोटो सोर्स – इंडियन एक्सप्रेस)

धारा 370 खत्म करने का विरोध करने पर केंद्रीय मंत्री प्रताप चंद्र सारंगी ने कांग्रेस पर कड़ा हमला किया। कहा कि जो लोग वंदे मातरम बोलना नहीं स्वीकार कर सकते हैं, उन्हें देश में रहने का अधिकार नहीं है। सभी लोग मोदी को सराह रहे हैं। भुवनेश्वर में शनिवार को आयोजित जनजागरण सभा में उन्होंने कहा कि जब बीजेपी की कट्टर विरोधी पार्टियां प्रधानमंत्री मोदी के कदम की सराहना कर रही हैं, तह कांग्रेस इसका विरोध कर रही है।

पीओके और सियाचीन भी हमारा है अमित शाह ने कांग्रेस पार्टी को साफ कर दिया है कि पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) और सियाचीन भी भारत का हिस्सा है। ओडिसा के बालासोर से पहली बार निर्वाचित प्रताप चंद्र सारंगी ने कहा कि जो लोग वंदे मातरम बोलना नहीं स्वीकार कर सकते हैं, उन्हें देश में रहने का अधिकार नहीं है।

72 साल बाद कश्मीरियों को मिली आजादी  केंद्रीय पशुधन, डेरी और मत्स्य पालन राज्य मंत्री श्री सारंगी जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के कार्यक्रम में पहुंचे और कहा कि धारा 370 को खत्म करने के लिए 72 साल पहले निर्णय लिया गया था। यह नरेंद्र मोदी की सरकार हैं, जिसने 72 साल बाद कश्मीरियों को पूरे अधिकार दी।

National Hindi News, 22 September 2019 LIVE Updates: देश की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

माहौल शांतिपूर्ण और सुखद  कहा, जम्मू-कश्मीर में अब माहौल शांतिपूर्ण है। वहां भूमि की खरीदारी शुरू हो गई है। अब वहां की बेटियां आराम से कहीं भी शादी कर सकती हैं और रह सकती हैं। कहा कि इस कदम के बाद से टुकड़े-टुकड़े गैंग और आतंकियों के समर्थक परेशान हैं। कहा कि पूरा संसार कश्मीर से धारा 370 हटाने की सराहना कर रहा है जबकि देश की कुछ पार्टियां और नेता इसको हटाने के तरीके का विरोध करने में लगे हैं।

मानवाधिकार के मुद्दे पर जोर  देते हुए उन्होंने कहा कि धारा 370 हटाने के बाद कुछ लोग मानवाधिकार का नाम ले रहे हैं। लेकिन आतंकवाद के समर्थक उस वक्त नहीं परेशान हुए जब हमारे सैनिक मारे गए। जल शक्ति मंत्री शेखावत ने भी धारा 370 को हटाने के निर्णय की सराहना करते हुए कहा कि यह ऐतिहासिक कदम था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 UP Assembly ByPolls: हमीरपुर उपचुनाव के लिए मैदान में 9 उम्मीदवार; 23 को वोटिंग और 27 को आएगा रिजल्ट; जानें दूसरी सीटों का हाल
2 Swami Chinmayanand: अखाड़ा परिषद ने कहा- चिन्मयानंद का कृत्य निंदनीय, संत समाज से भी होंगे बाहर
3 Air India: बीच उड़ान कड़की बिजली और हिल गया विमान AI-467, चोटिल हुए क्रू मेंबर्स; Flight क्षतिग्रस्त