ताज़ा खबर
 

मूर्तियां तोड़ने वालों पर कार्रवाई होगी, पीएम मोदी ने घटनाओं की कड़े शब्दों में की निंदा

केंद्रीय गृह सचिव राजीव गौबा ने भी डीजीपी से बात की और उनसे कानून-व्यवस्था को बनाए रखने, हिंसा पर नजर रखने और शांति बहाली के लिए हरसंभव कदम उठाने का निर्देश दिया। मंत्रालय ने कहा कि हालत से निबटने के लिए राज्य सरकार को पर्याप्त केंद्रीय और राज्य बल उपलब्ध करवाए गए हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के कुछ हिस्सों में प्रतिमाओं को क्षतिग्रस्त करने की घटनाओं की बुधवार को कड़े शब्दों में निंंदा की और दोषी लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी। आधिकारिक वक्तव्य के मुताबिक प्रधानमंत्री ने इस मुद्दे पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह से भी बात की और ऐसी घटनाओं को कड़े शब्दों में खारिज किया। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने बुधवार को संसद भवन परिसर में संवाददताओं से कहा कि मैं सभी लोगों, सभी राजनीतिक दलों से अपील करता हूं कि ऐसी कार्यों में शामिल लोगों से सख्ती से निपटा जाना चाहिए। ऐसी घटनाओं को कभी भी उचित नहीं ठहराया जा सकता है। वक्तव्य में गृह मंत्रालय ने कहा कि उसने तोड़फोड़ की इन घटनाओं को गंभीरता से लिया है। साथ ही राज्य सरकारों को इन मामलों में कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया है।

मंत्रालय ने कहा कि ऐसी घटनाओं में लिप्त सभी लोगों के साथ सख्ती से पेश आया जाए और कानून के उपयुक्त प्रावधानों के तहत उनके खिलाफ मामला दर्ज किया जाए। सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को भेजे गए परामर्श में गृह मंत्रालय ने कहा कि देश के कुछ हिस्सों से प्रतिमाओं को गिराने की घटनाओं की खबरें आ रही हैं। इसमें कहा गया, ‘गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों से कहा कि ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए वे सभी आवश्यक कदम उठाएं।’ मंत्रालय ने कहा कि राज्य सरकारों से कहा गया कि ऐसी घटनाओं में लिप्त सभी लोगों के साथ सख्ती से पेश आया जाए और कानून के उपयुक्त प्रावधानों के तहत उनके खिलाफ मामला दर्ज किया जाए। परामर्श में कहा गया, ‘माननीय प्रधानमंत्री ने इस बाबत गृह मंत्री से भी बात की।’ इस परामर्श में त्रिपुरा का कोई जिक्र नहीं है लेकिन शनिवार को चुनाव परिणामों की घोषणा के बाद राज्य में प्रतिद्वंद्वी राजनीतिक दलों में हिंसा की छिटपुट घटनाएं और झड़पें हुई थी।

सोमवार को दक्षिण त्रिपुरा के बेलोनिया में लेनिन की प्रतिमा को बुलडोजर से गिरा दिया गया था। त्रिपुरा में विधानसभा चुनाव में भाजपा की जीत हुई है और इसके साथ ही वाम सरकार 25 साल बाद यहां की सत्ता से बाहर हुई है। तमिलनाडु के वेल्लोर जिले में मंगलवार रात समाज सुधारक व द्रविड़ आंदोलन के संस्थापक ई वी रामासामी ‘पेरियार’ की प्रतिमा कथित रूप से क्षतिग्रस्त कर दी गई। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने त्रिपुरा के राज्यपाल तथागत रॉय और डीजीपी एके शुक्ला से मंगलवार को बात की थी और उनसे नई सरकार के कामकाज संभालने तक राज्य में शांति सुनिश्चित करने व हिंसा पर नजर रखने को कहा था। केंद्रीय गृह सचिव राजीव गौबा ने भी डीजीपी से बात की और उनसे कानून-व्यवस्था को बनाए रखने, हिंसा पर नजर रखने और शांति बहाली के लिए हरसंभव कदम उठाने का निर्देश दिया। मंत्रालय ने कहा कि हालत से निबटने के लिए राज्य सरकार को पर्याप्त केंद्रीय और राज्य बल उपलब्ध करवाए गए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App