ताज़ा खबर
 

‘मुझे तलाक देकर पहले पेड़ से करो शादी, दोबारा करूंगी तुमसे ब्याह’ मध्य प्रदेश की महिला ने क्यों रखी ऐसी शर्त?

स्वास्थ्य विभाग में पदस्थ अधिकारी की पत्नी ने शिकायत की थी कि पति ने धोखे में रखकर शादी की और अपने मांगलिक होने की बात छुपाई। दोनों की दोबारा काउंसिलिंग की गई तो पत्नी ने कहा कि मंगल दोष के कारण उसे अपनी जान का खतरा महसूस हो रहा है।

भोपालप्रतीकात्मक तस्वीर (फोटो सोर्स -इंडियन एक्सप्रेस)

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में एक महिला ने अपने पति पर मांगलिक दोष बताकर उससे तलाक देने को कहा है। महिला का कहना है कि दोष खत्म करने के लिए वह पहले तलाक दे, फिर किसी पेड़ से शादी करे। इसके बाद फिर मुझसे शादी करे। ऐसा करने से मंगल का दोष खत्म हो जाएगा। मामला भोपाल के महिला थाने के परिवार परामर्श केंद्र के सामने आया। यहां एक महिला ने शिकायत की कि उसके पति स्वास्थ्य विभाग में अधिकारी हैं। जब शादी हुई थी तब उसे यह नहीं बताया गया कि वह मांगलिक दोष से पीड़ित हैं। पत्नी ने कहा कि अगर उनके दोष का निवारण नहीं किया गया तो उसकी जान का खतरा होगा।

पति ने कहा, नहीं मानेंगे शर्त : काउंसलिंग के दौरान महिला ने बताया कि पति उसे पहले तलाक देकर पेड़ से शादी कर लें और फिर दोबारा उससे शादी करें तो दोनों लोग सुखी रहेंगे और किसी को भी खतरा नहीं होगा। कहा कि ऐसा धार्मिक विधान है। इसको कराने से जीवन की बाधाएं खत्म हो जाती हैं। हालांकि पति ने इस शर्त को मानने से इंकार कर दिया।मामला भोपाल के रचना नगर इलाके की है। फिलहाल परामर्श केंद्र की काउंसलर ने दोनों को 20 दिन का समय दिया है। वे अपना मामला आपस में निपटा लें। चार साल पहले हुई दोनों की शादी के बाद उनकी डेढ़ साल की एक बेटी भी है।

Hindi News Today, 23 October 2019 LIVE Updates

पुरानी डायरी मिली तो खुला राज :  महिला का कहना है कि शादी के समय पति और उनके घर वालों ने इनके मांगलिक होने की बात छिपाई थी। लेकिन यह दैविक विधान है, जो होकर ही रहेगा। इसका निवारण नहीं कराने पर दोनों के जीवन को खतरा है। महिला ने बताया कि एक दिन घर की सफाई करते समय पति की एक पुरानी डायरी मिल गई। इसमें उनके जन्म की तारीख और समय दर्ज था। कहा कि जो तारीख और समय शादी के समय दी गई कुंडली में लिखा था, यह उससे अलग था।

पुरुष ने कहा अंधविश्वास : बताया कि जब इस तारीख और समय की कुंडली बनवाकर देखा गया तो उसमें मांगलिक दोष साफ दिखाई दिया। घर के पुरोहितों और पंडितों ने बताया कि इसका निवारण जल्द से जल्द करवा लें, अन्यथा दोनों कि जिंदगी को खतरा हो जाएगा। इसीलिए पति से कहा कि वह ऐसा कर लें। पति का कहना है कि यह एक अंधविश्वास है और वह हर्गिज ऐसा नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि उन्हें इस पर भरोसा नहीं है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सब्जी के छिलकों संग 3 तोला सोना निगल गया सांड, 4 दिन से ‘खातिरदारी’ कर रहे लोग
2 ‘सड़े हुए आलू जैसे हैं देश के रईस’ सत्यपाल मलिक बोले- राज्यपाल की स्थिति बेहद कमजोर, नहीं कह पाते दिल की बात
3 ‘Delhi में हिंदू-मुस्लिम राजनीति करने की हिम्मत BJP में नहीं’ केजरीवाल बोले- AAP ने अपने काम से बदल दिए मुद्दे
यह पढ़ा क्या?
X