भारत में चार साल में दोगुनी हो जाएगी इंटरनेट प्रयोक्ताओं की संख्या - Jansatta
ताज़ा खबर
 

भारत में चार साल में दोगुनी हो जाएगी इंटरनेट प्रयोक्ताओं की संख्या

भारत में इंटरनेट प्रयोक्ताओं की संख्या तेजी से बढ़ रही है। ग्रामीण क्षेत्रों में इंटरनेट की पहुंच बढ़ने से भारत में 2020 तक इंटरनेट प्रयोक्ताओं की संख्या 73 करोड़ तक पहुंच जाने की संभावना है।

Author नई दिल्ली | August 18, 2016 6:00 AM
टेलीकॉम रेग्यूलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (ट्राई) ने अनुशंसा की है कि इंटरनेट की मिनिमम ब्रॉडबैंड स्पीड 2Mbps की जाए।

भारत में इंटरनेट प्रयोक्ताओं की संख्या तेजी से बढ़ रही है। ग्रामीण क्षेत्रों में इंटरनेट की पहुंच बढ़ने से भारत में 2020 तक इंटरनेट प्रयोक्ताओं की संख्या 73 करोड़ तक पहुंच जाने की संभावना है जो 2015 के अंत तक रही कुल इंटरनेट प्रयोक्ताओं की 35 करोड़ की संख्या का लगभग दुगना होगा। यह जानकारी भारत में इंटरनेट के भविष्य के बारे में नासकॉम और अकामई टेक्नोलॉजीस की ताजा रपट ‘द फ्यूचर आॅफ इंटरनेट इन इंडिया’ में दी गई है।

रपट के मुताबिक इंटरनेट इस्तेमाल करने वाली आबादी के आधार के मामले में चीन के बाद दूसरे स्थान पर भारत है। और भारत इस क्षेत्र में सबसे तेजी से बढ़ता बाजार बना रहेगा। रपट में कहा गया है कि इंटरनेट से जुड़ने वाले नए लोगों में 75 फीसद भागीदारी ग्रामीण क्षेत्र के लोगों की है। इस आबादी का करीब 75 फीसद इंटरनेट का प्रयोग स्थानीय भाषा में करेंगे। नासकॉम के अध्यक्ष आर चंद्रशेखर ने कहा कि भारत का इंटरनेट उपभोग पहले ही अमेरिका से आगे निकल गया है और वैश्विक रूप से दूसरे स्थान पर है। 2020 तक यह देश के और दूरदराज के भूभागों में फैलेगा जिससे हर किसी के लिए और अवसर पैदा होंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App