ताज़ा खबर
 

कानपुर: युवक की ताबड़तोड़ गोलियां मारकर हत्या, अपहरण मामले में जमानत पर था रिहा

अब तक मिली जानकारी के अनुसार कल्याणपुर के अशोक नगर खलवा इलाके में रहने वाला अजय वर्मा (मृतक) अपराधिक किस्म का शख्स था। हालांकि की उसकी बम्बा रोड में टेन्ट हाउस की दुकान भी थी।

Author कानपुर | March 2, 2018 2:24 PM
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में कल्याणपुर थाना के अंतर्गत देर रात अपहरण के मामले में जमानत पर रिहा युवक की ताबड़तोड़ गोलियां मारकर हत्या कर दी गई। वारदात को अंजाम देकर बदमाश भाग निकले। घटना की जानकारी मिलते ही सर्किल की फोर्स, पुलिस अधीक्षक सहित फोरेंसिक टीम मौके पर पहुंची और छानबीन करते हुए हत्यारों की तलाश में जुट गई। अब तक मिली जानकारी के अनुसार कल्याणपुर के अशोक नगर खलवा इलाके में रहने वाला अजय वर्मा अपराधिक किस्म का शख्स था। हालांकि की उसकी बम्बा रोड में टेन्ट हाउस की दुकान भी थी। अजय अपहरण के मामले में जमानत पर छूट कर आया था। गुरुवार की देर रात वह होली के त्यौहार में क्षेत्र में घूम रहा था और टेन्ट दुकान में लाइट का काम करने वाले अपने साथी राजू से मिलने के लिए कला मोहल्ले स्थित उसके घर जा रहा था। तभी हरदेव बाबा वाली गली में कुछ लोगों ने उसे घेर लिया और फायरिंग शुरू कर दी। जान बचाने को वह भागकर राजू के घर पहुंचा और गेट बंद कर लिया लेकिन बदमाशों ने गेट पर चढ़कर एक के बाद एक कई गोलियां मार दीं और पूरी तरह से लहुलूहान होने पर मौके से हाथों में असलहे लहराते हुए भाग निकले।

करीब आठ गोलियों की आवाज व युवक की हत्या की खबर फैलते ही इलाके में सनसनी फैल गई। सूचना मिलते ही कल्याणपुर इंस्पेक्टर समीर कुमार सिंह, पुलिस उपाधीक्षक राजेश पांडेय सर्किल फोर्स के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। संवेदनशील इलाके व होलिका दहन के दौरान हुई निर्मम हत्या की जानकारी मिलते ही पुलिस अधीक्षक क्राइम राजेश कुमार, पुलिस अधीक्षक पश्चिम डॉ गौरव ग्रोवर फोरेंसिक टीम के साथ पहुंचे और जांच पड़ताल में जुट गए। राजू की पत्नी ने पुलिस को बताया कि दौड़कर मृतक उसके घर घुसा और जान बचाने के लिए आवाज लगाते हुए दरवाजा बंद कर लिया। लेकिन हमलावर कई थे और गेट के ऊपर चढ़कर गोलियों से भून दिया। दहशत में उसने अन्दर वाले कमरे को बंद कर लिया और इसकी जानकारी अपने पति व पुलिस को दी।

पुलिस अधीक्षक पश्चिम ने बताया कि हत्या का कारण स्पष्ट नहीं है। हालांकि परिजन ने एक शातिर अपराधी पर आरोप लगाया है। तहरीर के आधार पर व पूर्व की पृष्टभूमि को देखते हुए कई बिन्दुओं पर जांच की जा रही है। शुरुआती जांच में पांच गोली लगने से युवक की मौत होने की बात सामने आ रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर इसकी पुष्टि हो सकेगी। एसपी के मुताबिक मृतक अपहरण के एक मामले में जेल से जमानत पर रिहा हुआ था और उसके दो अन्य भाईयों पर भी कई अपराधिक मुकदमे दर्ज हैं। घटना का खुलासा करने को पांच पुलिस की टीमें लगाई गई हैं। तनाव व होली के पर्व को देखते हुए इलाके में पीएसी के साथ पुलिस फोर्स तैनात कर दिया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App