The Bhopal Police has arrested the director of a private hostel for allegedly raping a speech and hearing impaired girl-भोपाल: हॉस्‍टल में गूंगी-बहरी लड़कियों से रेप, आरोपी गिरफ्तार - Jansatta
ताज़ा खबर
 

भोपाल: हॉस्‍टल में गूंगी-बहरी लड़कियों से रेप, आरोपी गिरफ्तार

बिहार के मुजफ्फरपुर और उत्तर प्रदेश के देवरिया के बाद अब मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के एक छात्रावास में मूक-बधिर युवतियों से दुष्कर्म का मामला सामने आया है।

प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo credit- Indian express)

बिहार के मुजफ्फरपुर और उत्तर प्रदेश के देवरिया के बाद अब मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के एक छात्रावास में मूक-बधिर युवतियों से दुष्कर्म का मामला सामने आया है। यहां के छात्रावास संचालक पर युवतियों से दुराचार व अश्लील हरकत के आरोप लगाए गए हैं। पुलिस ने छात्रावास संचालक को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के अनुसार, यह मामला गुरुवार को तब उजागर हुआ जब धार जिले की एक मूक-बधिर युवती ने आपबीती परिजनों को बताई। परिजनों ने धार व इंदौर पुलिस को शिकायत की। इस पर पुलिस ने शून्य पर मामला दर्ज कर भोपाल की अवधपुरी थाने के पुलिस को प्रकरण भेजा।

बताया गया है कि अवधपुरी में अश्विनी शर्मा मूक बधिर बालिकाओं के लिए प्रशिक्षण केंद्र चलाता है, जिसे सरकार से अनुदान भी मिलता है। उसका कृतार्थ नाम से छात्रावास भी है। इस छात्रावास में प्रशिक्षण लेने आने वाली युवतियां के रहने का इंतजाम है। भोपाल क्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) जयदीप प्रसाद ने शुक्रवार को आईएएनएस को बताया, “धार की एक और इंदौर की दो युवतियों ने शिकायत दर्ज कराई है, उसी आधार पर छात्रावास संचालक अश्विनी शर्मा पर प्रकरण दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। धार की मूक बधिर युवती द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के अनुसार, वह भोपाल सिलाई-कढ़ाई का प्रशिक्षण लेने आई थी।

यहां वह साल भर रही, जहां छात्रावास संचालक ने कई बार उसके साथ दुराचार किया। इस मामले को लेकर राज्य के सीएम शिवराज सिंह तौहान का बयान आया है कि सभी होस्टलों और अनाथश्रमों की नियमित जांच कराई जाए। वहीं इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत के दौरान मध्यप्रदेश पुलिस ने बताया कि यह होस्टल किसी सरकारी एजेंसी से जुड़ा हुआ है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App