ताज़ा खबर
 

गुजरात: 9 साल की बच्‍ची से कुकर्म कर बोला- किसी को बताया तो फिर करूंगा, युवक गिरफ्तार

पीड़िता ने रविवार को अपनी मां से असहनीय दर्द की शिकायत की, जिसके बाद उन्हें इस भयानक घटना के बारे में जानकारी हुई। मुरली पर दुष्कर्म और अप्राकृतिक यौन अपराध संबंधी आरोपों के लिए भारतीय दंड सहिता और यौन अपराधों से बच्चों के संरक्षण (पास्को) अधिनियम की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।
Author April 16, 2018 23:22 pm
प्रतीकात्मक तस्वीर

गुजरात के राजकोट जिले में एक नौ साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म और कुकर्म करने के फरार आरोपी 24 वर्षीय युवक को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने सोमवार को इस बात की जानकारी दी। पीड़िता की मां द्वारा दर्ज शिकायत के मुताबिक कमलेश उर्फ मुरली भारवाड़ उनकी बच्ची को बहला फुसलाकर अपने घर ले गया और अपराध को अंजाम दिया। पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया है।

राजकोट के सहायक पुलिस आयुक्त हरशद भट्ट ने कहा, “आरोपी ने यह भी माना है कि उसने एक पखवाड़ा पूर्व भी ऐसी ही घटना को अंजाम दिया था और लड़की को इस बारे में किसी को भी नहीं बताने के लिए धमकाया था। आरोपी ने पीड़िता को धमकाते हुए कहा था कि अगर वह किसी को इस बारे में बताएगी तो वह दोबारा उसके साथ ऐसा ही करेगा।”

पीड़िता ने रविवार को अपनी मां से असहनीय दर्द की शिकायत की, जिसके बाद उन्हें इस भयानक घटना के बारे में जानकारी हुई। मुरली पर दुष्कर्म और अप्राकृतिक यौन अपराध संबंधी आरोपों के लिए भारतीय दंड सहिता और यौन अपराधों से बच्चों के संरक्षण (पास्को) अधिनियम की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

बता दें कि लगातार बच्चियों के साथ होने वाली दरिंदगी की खबरों से देश गुस्से में है। गुजरात में सूरत के भेस्तान इलाके की घटना ने सभी को हैरान कर दिया है। यहां एक 9 साल की बच्ची का शव बरामद किया गया था। बच्ची के शव पर 86 चोट के निशान थे, जिन्हें लेकर पुलिस अधिकारियों का कहना है कि बच्ची को बंदी बनाकर रखा गया था। उसे काफी प्रताड़ित किया गया और रेप की भी आशंका जताई गई है। 6 अप्रैल को बच्ची का शव पुलिस को मिला था। पांडेसरा पुलिस थाने के पुलिस अधिकारी ने बताया कि फिलहाल बच्ची की पहचान नहीं हो पाई लेकिन उसकी पहचान के लिए सोशल मीडिया की मदद ली जा रही है। इसके अलावा गुजरात पुलिस बच्ची की पहचान करने के लिए आठ हजार से ज्यादा लापता बच्चियों के डेटा को बारीकी से जांचा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App