Thane police arrested tv actress and his detective husband over extorting 10 crore from IAS officer - आईएएस को ब्लैकमेल कर करोड़ों रुपये मांग रही थी ऐक्ट्रेस, चढ़ी पुलिस के हत्थे - Jansatta
ताज़ा खबर
 

आईएएस को ब्लैकमेल कर करोड़ों रुपये मांग रही थी ऐक्ट्रेस, चढ़ी पुलिस के हत्थे

आईएएस अधिकारी राधेशम मोपलवार ने प्राइवेट डिटेक्टिव सतीश मंगल और उसकी पत्नी एक्ट्रेस श्रद्धा मंगल के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी।

(प्रतीकात्मक फोटो)

ठाणे पुलिस ने आईएएस अधिकारी को ब्लैकमेल करके 10 करोड़ रुपए मांगने के आरोप में शुक्रवार को एक मराठी फिल्म और टीवी एक्ट्रेस और उसके डिटेक्टिव पति को गिरफ्तार किया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक महाराष्ट्र स्टेट रोड डेवलपमेंट कॉरपोरेशन के प्रबंध निदेशक के रूप में प्रभार संभाल चुके आईएएस अधिकारी राधेशम मोपलवार ने प्राइवेट डिटेक्टिव सतीश मंगल और उसकी पत्नी एक्ट्रेस श्रद्धा मंगल के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। इंडिया टूडे के मुताबिक मोपलवार ने बताया कि सतीश और श्रद्धा ने उनसे कहा था कि उन दोनों के पास मोपलवार की कुछ ऐसी वीडियो और ऑडियो क्लिप्स हैं जो ये साबित कर सकते हैं कि कुछ भ्रष्ट सौदों में उनका हाथ था और इन्हीं क्लिप्स के आधार पर उन्हें ब्लैकमेल किया जा रहा था और पैसे भी मांगे जा रहे थे। अधिकारी ने ये भी बताया कि सतीश ने उन्हें धमकाते हुए कहा था कि अगर मांगी गई रकम दी नहीं जाती है तो सारी क्लिप्स न्यूज़ चैनल्स को सौंप दी जाएगी।

सतीश और मोपलवार के बीच इस मामले को लेकर तीन मीटिंग्स हुई थीं और तीसरी मीटिंग के दौरान सतीश वसूली रकम को 10 करोड़ से घटाकर 7 करोड़ करने को तैयार हो गया था। मोपलवार ने तीसरी मीटिंग की छिपकर रिकॉर्डिंग कर ली थी। ठाणे पुलिस कमिशनर परमवीर सिंह ने बताया, ‘आईएएस अधिकारी की शिकायत के बाद हमने एक जाल बिछाते हुए 1 करोड़ के डमी नोटों को फर्स्ट इंस्टालमेंट के तौर पर सतीश को सौंपने की प्लानिंग की, जिसके बाद पैसे लेते हुए सतीश और उसकी पत्नी को रंगे हाथों पकड़ लिया गया।’ पुलिस ने यह भी बताया कि दोनों पति-पत्नी भारत छोड़ कर श्रीलंका जाने की तैयारी में थे। पुलिस का कहना है कि इस पूरी प्लानिंग में सतीश की दूसरी पत्नी श्रद्धा उसका पूरा-पूरा साथ दे रही थी।

परमवीर सिंह ने आगे कहा, ‘सतीश के पास बहुत सी मीटिंग्स की रिकॉर्डिंग है। हो सकता है कि मोपलवार को ब्लैकमेल करने के लिए सतीश ने कुछ रिकॉर्डिंग से छेड़खानी की होगी।’ बता दें कि सतीश के लेपटॉप में बहुत सी रिकॉर्डिंग मिली है और साथ ही एडिटिंग सॉफ्टवेयर्स भी मिले हैं, जिसके आधार पर कहा जा रहा है कि ऑडियो क्लिप्स को मोपलवार को धमकाने के लिए बनाया गया हो।’ सतीश ने पहले भी मोपलवार पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App