ताज़ा खबर
 

जम्मू-कश्मीर: आतंकियों ने बीजेपी नेता और उनके भाई पर की अंधाधुंध फायरिंग, सेना ने चलाया सर्च ऑपरेशन

आतंकी हमले में मारे गए अनिल परिहार मूल रूप से किश्तवाड़ के ही रहने वाले थे और साल 2008 में उन्होंने यहीं से नेशनल पैंथर्स पार्टी के टिकट पर चुनाव भी लड़ा था। भाजपा के प्रदेश महासचिव अशोक कौल ने हमले की निंदा की है।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ में गुरुवार रात भाजपा के प्रदेश सचिव अनिल परिहार और उनके भाई की आतंकियों ने गोली मार कर हत्या कर दी। घात लगाए आतंकवादियों ने रात करीब साढ़े आठ बजे किश्तवाड़ के तपल गली इलाके में अनिल परिहार के घर के सामने दोनों को गोली मार दी। दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। हमले के बाद किश्तवाड़ जिले में कर्फ्यू लगा दिया गया है। सुरक्षा एजंसियों ने जम्मू संभाग के सभी जिलों में हाई अलर्ट घोषित किया है। सेना, एसओजी और सीआरपीएफ की संयुक्त कमांडो टीम को मौके पर भेजा गया है। आतंकियों की तलाश में अभियान शुरू किया गया है। गृह मंत्रालय व राज्यपाल कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक, अनिल परिहार और उनके भाई पर आतंकवादियों ने स्वचालित हथियारों से गोलियां बरसार्इं। दोनों अपनी दुकान से घर लौटे थे। घर के बाहर घात लगाए बैठे आतंकियों ने उन दोनों पर अंधाधुंध गोलियां बरसाईं।

आतंकी हमले में मारे गए अनिल परिहार मूल रूप से किश्तवाड़ के ही रहने वाले थे और साल 2008 में उन्होंने यहीं से नेशनल पैंथर्स पार्टी के टिकट पर चुनाव भी लड़ा था। भाजपा के प्रदेश महासचिव अशोक कौल ने हमले की निंदा की है। परिहार की मौत पर दुख जताते हुए नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने ट्विटर पर संवेदना व्यक्त की है। उमर ने ट्वीट किया है कि यह एक बुरी खबर है। मेरी संवेदनाएं अनिल और अजीत परिहार के परिवार और उनके साथियों के साथ है। ईश्वर दोनों मृतकों की आत्मा को शांति दे।
जम्मू-कश्मीर में इससे पहले भी भाजपा नेताओं को आतंकियों ने निशाना बनाया था।

बीते साल दो नवंबर को आतंकियों ने दक्षिण कश्मीर के शोपियां में भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष गौहर अहमद को अगवा किया था। बाद में उनका गला कटा शव बरामद किया गया था। हाल में, 30 अक्तूबर 2018 को आतंकियों ने शोपियां जिले में कांग्रेस के नेता मोहम्मद शफी की हत्या कर दी थी। इससे पूर्व श्रीनगर में भी पीडीपी के एक नेता की हत्या की गई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App