ताज़ा खबर
 

नहीं बच पाई 450 फुट गहरे बोरवेल में गिरी बच्ची, 58 घंटे बाद निकाला जा सका शव

तेलंगाना के रंगा रेड्डी जिले में बृहस्पतिवार को एक खुले बोरवेल में दुर्घटनावश जा गिरी 18 माह की बच्ची को बचाव र्किमयों ने आज बाहर निकाल लिया लेकिन बच्ची की मौत हो चुकी थी।

Author हैदराबाद | Updated: June 25, 2017 3:06 PM
चिन्नारी को बचाने की कोशिश करते बचाव कर्मी। (Source: ANI)

तेलंगाना के रंगा रेड्डी जिले में बृहस्पतिवार को एक खुले बोरवेल में दुर्घटनावश जा गिरी 18 माह की बच्ची को बचाव र्किमयों ने आज बाहर निकाल लिया लेकिन बच्ची की मौत हो चुकी थी। पुलिस ने बताया कि कृषि मजदूर की बच्ची को बचाने के लिए विभिन्न एजेंसियों ने 58 घंटे तक बचाव अभियान चलाया और आज उसे बाहर निकाला गया लेकिन उसकी मौत हो चुकी थी। चिन्नारी नामक यह बच्ची अपनी बड़ी बहन के साथ खेत में खेल रही थी और समीप ही खुले पड़े करीब 450 फुट गहरे बोरवेल में दुर्घटनावश जा गिरी। यह घटना हैदराबाद से करीब 60 किमी दूर चवेल्ला मंडल के एक्करेदीगुडा में बृहस्पतिवार को शाम करीब सवा सात बजे हुई। साइबराबाद के पुलिस आयुक्त संदीप शांडिल्य ने बताया ‘‘उसे मृत घोषित कर दिया गया। पार्थिव शरीर मिलने के बाद सुबह छह बजे हमने बचाव अभियान बंद कर दिया।’’

अधिकारियों ने कल कहा था कि बच्ची के बचने की संभावनाएं क्षीण हैं। पुलिस ने बताया कि बच्ची को बचाने के लिए प्रयास बृहस्पतिवार की रात आठ बजे शुरू किए गए। आज उसकी मृत देह करीब 245 फुट की गहराई पर फंसी मिली। चवेल्ला पुलिस थाने के उप निरीक्षक एन श्रीधर रेड्डी ने बताया ‘‘पोस्टमार्टम के बाद बच्ची का शव उसके परिवार को दे दिया गया । वह लोग उसे उसके गृह गांव गोरेपल्ली ले गए।’’ बच्ची के बोरवेल में गिरने के बाद मशीनों की मदद से समानांतर गड्ढा खोदा गया। लेकिन जमीन में पत्थर निकलने और बारिश होने की वजह से बचाव कार्य में बाधा आई।

हाई-टेक संवेदनशील कैमरे बच्ची का पता लगाने के लिए लगाए गए और बोरवेल में ऑक्सिजन की लगातार आपूर्ति की गई। बचाव कार्य में दमकल विभाग, राष्ट्रीय आपदा मोचन बल के र्किमयों और ओएनजीसी के अधिकारियों के दल ने भी हिस्सा लिया। मौके पर डॉक्टरों का एक दल और एंबुलेन्स को भी तैनात किया गया था। साइबराबाद पुलिस ने जमीन के मालिक मल्ला रेड्डी के खिलाफ आईपीसी की धारा 336 (दूसरों की निजी सुरक्षा या जीवन को खतरे में डालने वाला कृत्य) के तहत मामला दर्ज किया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 उत्तराखंड के बाद अब हैदराबाद में प्लास्टिक के चावल मिलने के दावे, वायरल हो रहे हैं इसके वीडियो
2 विदेश में फंसी महिला, 80 हजार का लालच देकर हैदराबाद से ले गया और ओमान में तीन लाख में बेच दिया
3 खुफिया ब्रांच की रिपोर्ट में खुलासा, 35 जिलों में दो लाख माओवादियों के पास 10,000 हथियार
ये पढ़ा क्या?
X