ताज़ा खबर
 

अकबरुद्दीन ओवैसी ने फिर दिया विवादित बयान, कहा- संसद में बनते हैं मुसलमानों की बर्बादी के कानून

अकबरुद्दीन ओवैसी ने कहा- ओ विश्व हिंदू परिषद वालों, RSS वालों, नरेंद्र मोदी सुन लो ये मुल्क किसी एक का नहीं, ये जितना तेरा है, मुल्क मेरा भी है।

AIMIM विधायक अकबरुद्दीन ओवैसी।

AIMIM विधायक अकबरुद्दीन ओवैसी ने फिर से एक बार विवादित बयान दिया है। अकबरुद्दीन ने देश की विधायिका पर सवाल उठाते हुए कहा है कि देश में मुसलमानों के खिलाफ कानून संसद और विधानसभा में बनते हैं। एक जनसभा को संबोधित करते हुए अकबरुद्दीन ओवैसी ने कहा कि मुलमानों के बर्बादी के कानून सड़कों और गली मुहल्लों में नहीं बनते, मुसलमानों की बर्बादी के कानून संसद और विधानसभाओं में बनते हैं। अगर मुसलमान चाहे और अगर मुसलमान उठ जाए, मुसलमान एक हो जाए तो अपनी जानकारी और अपने अनुभव से कह रहा हूं, हमें किसी के रहम और किसी के करम की जरूरत नहीं पड़ेगी। हमारा भाई खुद अपने भाइयों के वोट से कुद कम से कम 50 लोकसभा की सीटें जीत सकता है।

अकबरुद्दीन ओवैसी ने गोरक्षा के नाम पर हो रही हत्याओं पर कहा- कहां गए वो सेक्युलर लोग..अखलाक को मारा गया, नोमान को मारा गया, जुनैद को मारा गया…टोपी पहनना गुनाह है क्या? मुसलमान होना गुनाह है क्या? ओ विश्व हिंदू परिषद वालों, RSS वालों, नरेंद्र मोदी सुन लो ये मुल्क किसी एक का नहीं, ये जितना तेरा है, मुल्क मेरा भी है। अगर हिंदू तिलक लगाकर घूम सकता है तो मुसलमान भी टोपी पहन सकता है।

आपको बता दें कि ये पहली बार नहीं है जब चार बार से विधायक अकबरुद्दीन ओवैसी ने इस तरह से धर्म के नाम पर लोगों को भड़काने का काम किया है। इससे पहले भी वो इसी तरह के विवादित बयान देते रहे हैं। इसी साल मार्च में अकबरुद्दीन ओवैसी ने कहा था- हालांकि, भारत की राजधानी दिल्ली है लेकिन अगर भारतीय मुस्लिमों की वास्तविक राजधानी की बात करें तो वह हैदराबाद है। भारतीय मुस्लिमों के लिए सोच और तर्क यहीं से जाते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App