ताज़ा खबर
 

MBBS में एडमिशन नहीं मिलने पर ससुराल वालों ने बहू को जिंदा जलाया!

उसका सिलेक्शन बेचलर ऑफ डेंटल सर्जरी कोर्स के लिए हुआ था। उसे प्राइवेट कॉलेज मिल रहा था।

Author Updated: September 19, 2017 3:56 PM
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

हैदराबाद में एक इंजीनियर पर अपनी पत्नी को जलाकर मारने का मामला सामने आया है। लड़की के माता पिता ने लड़के और उसके घरवालों के खिलाफ पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई है। उन्होंने अपनी बेटी हरिका कुमार का प्लान्ड मर्डर करने और दहेज मांगने की शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने लड़के और उसके माता पिता को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने बताया कि हरिका कुमार के पति रुषि कुमार ने हरिका की मां को रविवार रात को फोन किया और बताया कि हरिका ने खुद को आग लगा ली है। यह घटना हैदराबाद के पास एलबी नगर रॉक टॉउन कॉलोनी की है। एलबी नगर डिविजन के एसीपी वेनुगोपाल राव ने बताया कि हरिका का पति कह रहा है कि उसने आत्महत्या की है, लेकिन जब हमने मौके पर जाकर देखा तो हमें शक है कि यह आत्महत्या नहीं मर्डर है।

हरिका के माता पिता के मुताबिक वह मेडिकल एंट्रेंस एग्जाम दे रही थी लेकिन MBBS के लिए क्लीयर नहीं कर पा रही थी। इस बार भी वह एग्जाम क्लीयर नहीं कर पाई। उसका सिलेक्शन बेचलर ऑफ डेंटल सर्जरी कोर्स के लिए हुआ था। उसे प्राइवेट कॉलेज मिल रहा था। उनका आरोप है कि इससे हरिका का पति संतुष्ट नहीं था। उसने उसे तलाक देने की भी धमकी दी थी।

हरिका की बहन और मां ने बताया कि हरिका और रुषि की शादी 2 साल पहले हुई थी। उसे एमबीबीएस की सीट नहीं मिली थी तो उसके ससुराल वाले उसे परेशान कर रहे थे। उसका इस साल BDS में हुआ था। वह उसे दहेज के लिए भी प्रताड़ित कर रहे थे। यह एक प्लान्ड मर्डर है। एसीपी राव ने कहा कि हरिका की मौत कैसे हुई इसका सही कारण तो उसकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चलेगा। रिपोर्ट का इंतजार है और आगे की जांच की जा रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 तस्लीमा आपकी बहन बन गई, तो रोहिंग्या आपका भाई नहीं बन सकता है क्या मिस्टर मोदी- ओवैसी
2 रोहिंग्‍या मुस्लिम ने बनवा ल‍िया था आधार कार्ड, पासपोर्ट बनवाते हुआ ग‍िरफ्तार
3 नरेंद्र मोदी सरकार ने रद्द की विधायक की नागरिकता, अपील के लिए दी 30 दिन की मोहलत