ताज़ा खबर
 

सुबह जगे रोसैया तो पता चला छिन गई है Z प्लस सिक्योरिटी, गवर्नर से गुहार लगाकर वापस पाई सुरक्षा

तमिलनाडु के पूर्व राज्यपाल के रोसैया से उनकी जेड प्लस सिक्योरिटी ले गई थी लेकिन सुरक्षा दोबारा मिलने के बाद वो बहुत खुश है। हालांकि यह खुशी ज्यादा समय के लिए नहीं है।

Author हैदराबाद | September 26, 2016 4:55 PM
तमिलनाडु के पूर्व राज्यपाल के रोसैया (FILE PHOTO)

तमिलनाडु के पूर्व राज्यपाल के रोसैया से उनकी जेड प्लस सिक्योरिटी ले गई थी लेकिन सुरक्षा दोबारा मिलने के बाद वो बहुत खुश है। हालांकि यह खुशी ज्यादा समय के लिए नहीं है। तमिलनाडु के पूर्व राज्यपाल के रोसैया राजभवन से हैदराबाद स्थित अपने घर में शिफ्ट हुए। ऐसे में जानकर उन्हे यह जानकार हैरानी हुई कि उनकी स्कॉर्ट कारें, पायलट कार, वायलेस लिए हुए पुलिस के जवान सब वापस ले लिए गए हैं। इन सबकी कमी उन्हें महसूस हो रही थी। अब उनके साथ सिर्फ एक कॉन्सटेबल है वो भी बिना हथियार के लाठी के साथ तैनात था। जब उन्होंने पुलिसवाले से पूछा- तो उसने बताया कि आपकी जेड प्लस सिक्योरिटी वापस ले ली गई है। इस तरह से उन्हें पता चला की सुरक्षा कम कर दी गई है।

पूर्व राज्यपाल रोसैया ने आंध्र प्रदेश के गवर्नर ईएसएल नरसिंहमन से इस संबंध में बात की। जिसके बाद आंध्र के राज्यपाल ने साहनुभूति रखते हुए तुरंत रोसैया की सिक्योरिटी को तीन महीने के लिए बढ़ाने का आदेश जारी कर दिया। हालांकि तेलंगाना सरकार ने राजनैतिक कारणों से उनकी सुरक्षा वापस ले ली थी। अब रोसैया तीन महीने के लिए सिक्योरिटी वापस मिलने से खुश है।

गौरतलब है कि तमिलनाडु के पूर्व राज्यपाल 31 अगस्त को अपने पद से रिटायर हुए थे। उन्होंने 31 अगस्त 2016 को तमिलनाडु के राज्यपाल के रूप में पदभार ग्रहण किया था। रोसैया कांग्रेस के वरिष्ठ नेता होने के साथ आंध्र प्रदेश में कई महत्वपूर्ण पदों पर रह चुके हैं। 2009 से 2011 के दौरान पर आंध्र के मुख्यमंत्री भी रहे। रोसैया ऐसे चुनिंदा विधायकों में शामिल हैं जो 2014 में केंद्र में बीजेपी के नेतृत्व में सरकार आने के बाद भी राज्यपाल के पद पर बने रहे।

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App