ताज़ा खबर
 

डेरा सच्चा सौदा का शुरू से ही रहा है विवादों से नाता

डेरे के वर्तमान गद्दीनशीन संत गुरमीत राम रहीम सिंह इंसां शायद देश के पहले ऐसे धर्मगुरु हैं जो सर्वाधिक विवादों में रहने के बावजूद धार्मिक संत, लेखक, संगीतकार, गायक, निर्देशक, वैज्ञानिक, यूथ आइकन की छवि बनाए हुए हैं। वै
Author August 23, 2017 03:32 am
डेरा सच्चा सौदा के मुखिया गुरुमीत राम रहीम अभी जेल में।

संजीव शर्मा

हरियाणा के सिरसा के डेरा सच्चा सौदा का शुरू से ही विवादों से नाता रहा है। डेरे के वर्तमान गद्दीनशीन संत गुरमीत राम रहीम सिंह इंसां शायद देश के पहले ऐसे धर्मगुरु हैं जो सर्वाधिक विवादों में रहने के बावजूद धार्मिक संत, लेखक, संगीतकार, गायक, निर्देशक, वैज्ञानिक, यूथ आइकन की छवि बनाए हुए हैं। वैसे तो उनके खिलाफ कई मामलों की जांच चल रही है लेकिन साध्वी यौन शोषण मामले में तो 25 अगस्त को अदालत का फैसला आने वाला है। इस फैसले पर समूचे देश ही नहीं विदेशों में बसे डेरा अनुयायियों की भी निगाहें लगी हैं। डेरा प्रमुख को लेकर फैसला चाहे कुछ भी हो लेकिन सरकार और डेरा समर्थक हर तरह की स्थिति से निपटने को तैयार हैं। सिरसा में मुख्य डेरे समेत कई शहरों में नाम चर्चाघरों में लाखों की संख्या में अनुयायी पहुंचना शुरू हो गए हैं। हालांकि सरकार उनसे शांत रहने की अपील कर रही है। कहा यह भी जा रहा है कि 25 अगस्त को उनका मानव शृंखला बनाने का इरादा है।

हर दिमाग में ढेरों सवाल, फिर भी हर जुबां है खामोश
आस्था में न तो कभी बहस होती है और न ही उसकी पराकाष्ठा का अंत होता है। डेरा प्रमुख पर फैसले की घड़ी आने वाली है लेकिन उससे पहले ही उनकी गिरफ्तारी को लेकर अटकलों का बाजार गर्म है। ऐसे में सिरसा डेरे में अनुयाइयों का जमावड़ा लग चुका है।
हरियाणा में डेरा सच्चा सौदा को लेकर हमेशा से दो विचारधाराएं सक्रिय रही हैं। डेरा से जुडेÞ लोग आज भी अपने गुरु को ही सही मान रहे हैं। हिसार निवासी प्रवीन कुमार मानते हैं कि इस क्षेत्र में डेरे का प्रभाव शुरू से रहा है। डेरा तथा डेरा प्रमुख प्रत्यक्ष-परोक्ष रूप से हर तरह के कार्यों में सक्रिय रहे हैं। आज डेरे को लेकर इतने विवाद बढ़ चुके हैं कि जिन लोगों का किसी से कोई सरोकार नहीं वे यही चाहते हैं कि डेरे से जुडेÞ सभी मामलों का पटाक्षेप होना बहुत जरूरी है। दूसरी तरफ सिरसा जिले के लोगों की मनोदशा कुछ और है। सिरसा में लोगों के अंदर एक खौफ है जिसे वह बयान नहीं कर सकते हैं। लेकिन यहां के लोगों के दिमाग में ढेरों ऐसे सवाल हैं जिनका वह जवाब तो चाहते हैं लेकिन खुली जुबान से कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हैं।

सिरसा निवासियों को फैसले का  ,उत्सुकता से है इंतजार

सिरसा निवासी प्रमोद कुमार मानते हैं कि अब समय आ चुका है कि डेरा सच्चा सौदा से जुडेÞ विवादों का अंत होना चाहिए। आए दिन डेरा को लेकर होने वाले विवादों से सिरसा के लोग भी अब आहत होने लगे हैं। सिरसा निवासी 65 वर्षीय बलदेव सिंह मानते हैं कि पहले इस डेरे में लोग केवल भगवान के नाम व आस्था के कारण ही आते थे। वर्तमान गुरु से पहले ऐसा कोई विवाद कभी सामने नहीं आया, लेकिन वर्तमान में सार्वजनिक हो रहे विवाद दुर्भाग्यपूर्ण हैं।
सिरसा में लोगों का एक वर्ग ऐसा भी है जिसका दशकों बाद भी इस डेरे के साथ कोई संपर्क नहीं है। ऐसे लोग 25 अगस्त को आने वाले फैसले का उत्सुकता से इंतजार कर रहे हैं। दूसरी तरफ डेरा अनुयायी इस बात को लेकर आज भी एकमत हैं डेरा प्रमुख राम रहीम पर लगे तमाम आरोप बेबुनियाद हैं और वह हर केस में बाइज्जत बरी होंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App