ताज़ा खबर
 

हैदराबाद में लगातार बारिश, आईटी कर्मियों को घर से काम करने का निर्देश

हैदराबाद की यातायात पुलिस ने लोगों को गैरजरूरी यात्राओं से बचने की सलाह दी है।
Author हैदराबाद | September 23, 2016 19:42 pm
हैदराबाद में भारी बारिश के बाद वहां के मोआजाम जही बाज़ार का नज़ारा। (पीटीआई फोटो/22 सितंबर, 2016)

शहर में शुक्रवार (23 सितंबर) को लगातार तीसरे दिन बारिश होने से तेलंगाना सरकार ने आईटी कंपनियों को इस शहर में अपने कर्मचारियों को घर से काम करने की अनुमति देने को कहा। वहीं कुछ इलाकों में बचाव अभियान के लिए सेना से मदद मांगी गई है। राज्य सरकार के अनुरोध पर तत्परता दिखाते हुए नासकॉम ने अपने सभी सदस्यों को एक परामर्श जारी कर भारी बारिश हो देखते हुए उन्हें अपने कर्मचारियों को घर से काम करने की अनुमति देने को कहा है। लगातार भारी बारिश से शहर के कुछ हिस्सों में आम जनजीवन अस्तव्यस्त होने के मद्देनजर राज्य सरकार ने शुक्रवार को ग्रेटर हैदराबाद इलाके में शैक्षणिक संस्थानों के लिए आज (शुक्रवार, 23 सितंबर) और कल (शनिवार, 24 सितंबर) छुट्टी घोषित की।

इस समय राष्ट्रीय राजधानी में मौजूद तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चन्द्रशेखर राव ने स्थिति की समीक्षा की और मुख्य सचिव राजीव शर्मा को स्थिति का जायजा लेने और बारिश के चलते हुए नुकसान का अनुमान लगाने का निर्देश दिया। मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा गया कि इसके मुताबिक, राजीव शर्मा ने सभी जिला कलेक्टरों को इस भारी बारिश के चलते हुए नुकसान की एक सूची बनाने का आदेश दिया। तेलंगाना के सूचना प्रौद्योगिकी सचिव जयेश रंजन ने कहा कि उन्होंने आईटी कंपनियों के संघ को एक परामर्श भेजा है जिसमें उन्हें या तो छुट्टी घोषित करने या अपने कर्मचारियों को घर से काम करने की अनुमति देने को कहा गया है।

रंजन ने बताया, ‘हमने आईटी संघों को इस शहर में स्थित सभी आईटी कंपनियों को एक परामर्श जारी करने को कहा है। इसके मुताबिक, उन्होंने सभी आईटी फर्मों को परामर्श जारी किया है। यह कर्मचारियों की सुरक्षा के हित में है। कंपनियों से प्रतिक्रिया अच्छी है।’ ग्रेटर हैदराबाद म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि पिछले कई दिनों से हैदराबाद और तेलंगाना के कुछ अन्य हिस्सों में भारी बारिश के मद्देनजर सरकार ने शहर के कुछ इलाकों में बचाव अभियान के लिए सेना की मदद मांगी है जिसके लिए रक्षा शाखा सहमत हो गई है। उन्होंने कहा, ‘हमने उनकी मदद मांगी और वे भी आगे आए। उन्हें गाछीबावली, निजामपेट, अलवल और हकीमपेट जैसे इलाकों के नक्शे और अन्य सूचना उपलब्ध कराई गई है।’ मियापुर, बाचुपल्ली और निजामपेट के निचले इलाकों में कुछ जगहों पर पिछले दो दिनों से जलभराव हो गया है। नगर निगम बारिश प्रभावित इलाकों में लोगों को खाने के पैकेट की आपूर्ति करता रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.