ताज़ा खबर
 

बीजेपी सांसद ने गांववालों को दी अफसरों को पीट डालने की सलाह, बोले- मैं देख लूंगा

भाजपा नेता ने कहा कि वन अधिकारियों द्वारा पोडू भूमि में वृक्षारोपण कार्य में बाधा डालिए और उनके द्वारा लगाए गए पौधों को उखाड़ डालिए। अगर मारपीट की जरुरत पड़े तो उन्हें पीट डालिए, बाद में मैं देख लूंगा।

Author नई दिल्ली | July 22, 2019 11:55 AM
आदिलाबाद से भाजपा सांसद सोयम बापू राव।

तेलंगाना के आदिलाबाद से भाजपा सांसद सोयम बापू राव अपने एक विवादित बयान की वजह से सुर्खियों में है। सांसद पर आरोप है कि उन्होंने आदिवासियों से कहा कि अगर वन विभाग के कर्मचारी उनकी “पोडू की खेती” के लिए उपयोग की जाने वाली भूमि पर पौधे लगाते हैं तो उन्हें पीट डालिए। भाजपा नेता का बयान ऐसे समय में सामने आया है जब करीब एक महिना पहले ही प्रदेश में वृक्षारोपण अभियान के तहत वन विभाग की महिला अधिकारी के साथ ग्रामीणों ने मारपीट की।

सोयम बापू राव ने शनिवार (20 जुलाई, 2019) को उतनूर मंडल में आदिवासी नेता और हक्कुला पोरता समिति (तुडुम देबाबा) के संस्थापक सिद्धम शंभु की पुण्यतिथि पर आयोजित एक कार्यक्रम में लोगों को संबोधित करते हुए कहा, ‘हरिता हरम वृक्षारोपण परियोजना के तहत लगाए गए पौधों को पोडू (Podu) की जमीन से उखाड़ फेकिए।’ पोडू आदिवासियों द्वारा खेती करने का एक तरीका है।

भाजपा नेता ने आगे कहा, ‘वन अधिकारियों द्वारा पोडू भूमि में वृक्षारोपण कार्य में बाधा डालिए और उनके द्वारा लगाए गए पौधों को उखाड़ डालिए। अगर मारपीट की जरुरत पड़े तो उन्हें पीट डालिए, बाद में मैं देख लूंगा। वन विभाग के अधिकारियों के बारे में चिंता करने की जरुरत नहीं है।’ एक वीडियो भी सामने आया है जिसमें भाजपा नेता यह सब बाते कहते हुए नजर आ रहे हैं।

दरअसल आदिलाबाद के जंगल की जमीन पर आदिवासी समाज के लोग अपना दावा करते रहे हैं। आदिवासी ये दावा इसलिए करते हैं क्योंकि वो पोडू ( शिफ्टिंग कल्टीवेशन) के जरिए अपना जीवन यापन करते हैं। मगर इसकी वजह से बहुत सी जमीन बंजर रह जाती है। ऐसे में वन विभाग के अधिकारी उन जमीनों पर पेड़ लगा रहे हैं, मगर आदिवासी समाज को लगता है कि उनकी जमीनों को छीनने की कोशिश की जा रही है।

प्रदेश के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव पर आदिवासियों को दबाने की कोशिश करने का आरोप लगाते हुए भाजपा सांसद ने कहा, ‘आदिवासियों और तुदुम देबबा कार्यकर्ताओं को सतर्क रहना होगा और उन्हें सीएम की योजनाओं के खिलाफ लड़ना होगा।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories