ताज़ा खबर
 

Telangana: रिश्वत ले रहा था कोर्ट का अधिकारी, ACB की टीम को देखा तो फाड़े नोट, टॉयलेट में फ्लश भी किए

तेलंगाना में एक कानून अधिकारी को रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया। यह घटना उस समय हुई, जब अंसारी रेड्डी से रिश्वत की रकम ले रहे थे तभी मौके पर एसीबी (एंटी करप्शन ब्यूरो) की टीम पहुंच गई।

police officialsरिश्वत लेते हुए पकड़ा गया कानून अधिकारी प्रतीकात्मक फोटो सोर्सः जनसत्ता

तेलंगाना में एक कानून अधिकारी के रिश्वत लेने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम उसे पकड़ने पहुंची तो उसने नोटों को फाड़ दिया। वहीं, सबूत मिटाने के लिए उन्हें टॉयलेट में फ्लश कर दिया। यह घटना हैदराबाद में सोमवार ( 25 मार्च) को हुई। बता दें कि एसीबी के अधिकारियों ने सहायक लोक अभियोजक शकील अंसारी को रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़ा था। अंसारी शादनगर शहर में जूनियर फर्स्ट क्लास मैजिस्ट्रेट ( जेएफसीएम) कोर्ट में काम करता है।

क्या था मामलाः जानकारी के मुताबिक, आरोपी शकील अंसारी ने प्रभाकर रेड्डी नाम के एक शख्स से उनकी मां का नाम एक केस से हटाने के लिए 8000 रुपए की रिश्वत मांगी थी। रेड्डी ने इसकी शिकायत एंटी करप्शन ब्यूरो के अधिकारियों से की थी।

National Hindi News Today LIVE: जानें दिन भर की अपडेट्स

ऐसे पकड़ा गया अंसारी : इसके बाद एसीबी के अधिकारियों ने शकील अंसारी को रंगे हाथों पकड़ने के लिए जाल बिछाया। सोमवार को जब अंसारी हैदराबाद स्थित अपने घर में रेड्डी से रिश्वत की रकम ले रहे थे, तभी एसीबी की टीम मौके पर पहुंच गई।

नोट फाड़कर फ्लश किएः अधिकारियों को देखते ही शकील ने रिश्वत में मिले सभी नोटों को फाड़ दिया। इसके बाद उसने टॉयलेट में जाकर उन्हें फ्लश कर दिया। हालांकि, अधिकारियों ने फटे हुए नोटों को बरामद कर लिया। आरोपी शकील को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 UP: गाजियाबाद में प्रेमी जोड़े को मंदिर के बाहर मारी गोली, कुछ दिन में ही करने वाले थे शादी
2 शादीशुदा शख्‍स से हो गया प्‍यार, हाई कोर्ट ने महिला को दी साथ रहने की इजाजत
3 DDA Housing Scheme 2019: डीडीए फ्लैट्स के लिए ऐसे कर सकते हैं आवेदन, जानें पूरी प्रक्रिया
ये पढ़ा क्या?
X