ताज़ा खबर
 

भाई की कंपनियों के जरिए काला धन सफेद करते हैं सुशील कुमार मोदी: तेजस्वी

तेजस्वी ने कहा, "सुशील मोदी ने भ्रष्टाचार कर खुद करोड़ों की बेनामी संपत्ति अर्जित कर ली है और वे अपना काला धन अपने भाई आऱ क़े मोदी की कंपनियों के जरिए सफेद करवाते हैं।

Author पटना | Published on: September 2, 2017 2:37 AM
आरजेडी नेता और बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव। (फाइल फोटो)

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता व पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव ने शुक्रवार को उपमुख्यमंत्री व भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता सुशील कुमार मोदी (सुमो) पर अपने भाई की कंपनियों के जरिए काले धन को सफेद करवाने का आरोप लगाया। तेजस्वी ने कहा, “सुशील मोदी ने भ्रष्टाचार कर खुद करोड़ों की बेनामी संपत्ति अर्जित कर ली है और वे अपना काला धन अपने भाई आऱ क़े मोदी की कंपनियों के जरिए सफेद करवाते हैं। सुमो राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद के परिवार के खिलाफ बेनामी संपत्ति को लेकर लगातार खुलासा करते रहे हैं। माना जाता है कि इसी के इनाम के तौर पर उन्हें अप्रत्याशित रूप से दोबारा उपमुख्यमंत्री का पद मिला है।

तेजस्वी ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, “सुशील मोदी के बड़े भाई आऱ क़े मोदी बड़े बिल्डर हैं। देश के कई शहरों में आऱ क़े मोदी की कंपनी मॉल, अपार्टमेंट और मकान बनाने का काम कर रही है। सुमो अपने भाई के व्यवसाय को पूरी तरह अलग बताते हैं, लेकिन हकीकत यह है कि आऱ क़े मोदी की बेनामी कंपनियों के जरिए ही सुमो अपनी काली कमाई को सफेद करते रहे हैं। संवाददाता सम्मेलन में राजद नेता जगदानंद सिंह ने पत्रकारों से कहा कि सुशील मोदी के भाई का कोलकाता के एक ही पते पर कई कंपनियां हैं।

उन्होंने कहा कि वर्ष 2005 में सुशील मोदी पहली बार बिहार के उपमुख्यमंत्री बने थे और वित्तमंत्री का जिम्मा भी उन्होंने ही संभाला था। वित्तमंत्री रहते सुशील मोदी ने बिहार के खजाने की हिफाजत नहीं की। सिंह ने बताया कि वर्ष 2006 में सुशील मोदी ने दिल्ली में आऱ क़े मोदी की कंपनी से करीब 14.50 लाख रुपये में एक फ्लैट खरीदा। उसका पावर ऑफ अटार्नी आऱ क़े मोदी को दे दिया। फ्लैट खरीदते समय यह नहीं बताया गया कि किस माध्यम से भुगतान किया जा रहा है। इस फ्लैट को वर्ष 2010 में 85 लाख रुपये में बेच दिया गया।

राजद नेता ने बताया कि फ्लैट बेचने के दौरान बताया गया कि यह भुगतान चेक के माध्यम से लिया गया, लेकिन खरीदने के समय राशि किस रूप में दी गई, यह नहीं बताया गया। उन्होंने कहा कि मोदी ने पिछले कार्यकाल में बिहार के खजाने का दुरुपयोग किया। उन्होंने केंद्र सरकार से पूरे मामले की जांच कराने की मांग की है। उल्लेखनीय है कि भाजपा नेता सुमो पिछले दो महीने से लालू प्रसाद के परिवार पर बेनामी संपत्ति को लेकर लगातार निशाना साध रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 नजीब संग हाथापाई के आरोप में फंसे छात्र को एबीवीपी ने बनाया उम्मीदवार
2 दिल्ली के इंजीनियर ने पत्नी की हत्या कर डीप फ्रीजर में छुपाए थे शव के 72 टुकड़े, मिली उम्रकैद की सजा