ताज़ा खबर
 

जूता चुराई में 10 लाख रुपये मांग रही थीं तेजप्रताप की सालियां, तेजस्वी ने कहा कुछ ऐसा कि ‘बिगड़’ गईं सब

बिहार के पूर्व सीएम और चारा घोटाले में सजा काट रहे लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव फिलहाल अपनी शादी को लेकर सुर्खियों में बने हुए हैं। तेजप्रताप बिहार के महुआ से विधायक हैं और महागठबंधन की सरकार में स्वास्थ्य मंत्री भी रह चुके हैं।

शनिवार (12 मई) को पटना के वेटनरी कॉलेज में तेजप्रताप यादव और ऐश्वर्या राय की शादी हुई। (फोटो-पीटीआई)

बिहार के पूर्व सीएम और चारा घोटाले में सजा काट रहे लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव फिलहाल अपनी शादी को लेकर सुर्खियों में बने हुए हैं। तेजप्रताप बिहार के महुआ से विधायक हैं और महागठबंधन की सरकार में स्वास्थ्य मंत्री भी रह चुके हैं। वह और अक्सर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ बिगड़े बोलों के लेकर भी सुर्खियों में रह चुके हैं। 12 मई को आरजेडी के ही विधायक चंद्रिका राय की बेटी ऐश्वर्या राय के साथ वैवाहिक बंधन में बंधे तेज प्रताप की शादी की रस्मों ने मीडिया और जनता का खासा ध्यान खींचा। शादी में निभाई गई कई रस्मों में से एक जूता चुराई तेजप्रताप के लिए महंगी साबित हुई। पारिवारिक सूत्रों की ओर से कहा जा रहा है कि तेजप्रताप की सालियां जूता चुराई की रस्म में 10 लाख रुपये मांग रही थीं, लेकिन छोटे भाई तेजस्वी यादव ने बीच में आकर मामला 50 हजार में निपटाया। सूत्रों के मुताबिक जूता चुराई रस्म में सालियों ने जब 10 लाख रुपये मांगे तो तेजस्वी ने उन्हें 20 रुपये देने की बात कही।

HOT DEALS
  • Micromax Dual 4 E4816 Grey
    ₹ 11978 MRP ₹ 19999 -40%
    ₹1198 Cashback
  • Nokia 1 | Blue | 8GB
    ₹ 5199 MRP ₹ 5818 -11%
    ₹624 Cashback

सालियों के बिगड़ने पर तेजस्वी ने उनसे कहा कि इतनी बड़ी रकम पाकर उन्हें आयकर का सामना करना पड़ सकता है, इसलिए पहली किश्त बीस रुपये ले लें। सालियां अपनी मांग पर अड़ी रहीं। सूत्रों के मुताबिक तेज प्रताप की सालियों से पहले किसी और ने ही जूता चुरा लिया था और जब सालियों को इस बारे में पता चला तो उन्होंने जूता वापस करने बजाय तेज प्रताप को चप्पलें वापस कीं, और कहा कि यह पहली किश्त है, पूरे रुपये मिलने बाद ही जूते मिलेंगे।

तेजप्रताप की शादी में धुर विरोधी कहे जाने वाले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उनकी कैबिनेट के कई नेता शामिल हुए थे। शादी में बिहार के राज्यपाल सत्यपाल मलिक, केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान और शरद यादव भी शिरकत करने पहुंचे थे। मजे की बात यह रही कि तेजस्वी यादव ने बड़े भाई के हनीमून की जगह के बारे में भी जिक्र किया। तेजस्वी ने हनीमून के लिए बाली का नाम लिया और कहा कि वहां उनके भाई को अच्छा लगेगा। बता दें कि शादी की एक और रस्म द्वार छेकाई के लिए सालियों ने तेजप्रताप से एक करोड़ रुपये मांग लिए थे, इस पर भी काफी मोलभाव के बाद 50 हजार रुपये में बात बनी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App