जन्माष्टमी के उपवास के लिए बच्चों को पिटाई करने और भगवान कृष्ण को अपशब्द कहने वाला टीचर हुआ सस्पेंड

छत्तीसगढ़ के कोंडागांव जिले में एक स्कूल में भगवान श्रीकृष्ण के संबंध में कथित रूप से अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने के आरोप में जिला प्रशासन ने एक शिक्षक को सस्पेंड कर दिया है।

Teacher Suspend
वीडियो वायरल होने के बाद शिक्षक पर हुई कार्रवाई। फोटो सोर्स- VIDEO Grab

छत्तीसगढ़ के कोंडागांव जिले में एक स्कूल में भगवान श्रीकृष्ण के संबंध में कथित रूप से अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने के आरोप में जिला प्रशासन ने एक शिक्षक को सस्पेंड कर दिया है। प्रदेश के कोंडागांव जिले के अधिकारियों ने गुरुवार को बताया कि जिले के गिरोला विकासखंड के अंतर्गत बुंदापारा गांव के शासकीय स्कूल में भगवान श्रीकृष्ण के संबंध में कथित रूप से अभद्र और अश्लील व्यवहार करने के मामले में जिला प्रशासन ने शिक्षक चरण मरकाम को सस्पेंड कर दिया है। अधिकारियों ने बताया कि मरकाम द्वारा कृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर संस्था में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स के बीच कृष्ण भगवान के संबंध में गलत व्यवहार करने की जानकारी मिली थी।

उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन को ग्राम पंचायत और गांव के लोगों से लिखित और वीडियो के माध्यम से शिकायत मिली थी जो धार्मिक भावना को आहत करना और समाज में द्वेष फैलाना जैसे गंभीर अपराधों की श्रेणी में आता है। अधिकारियों ने बताया कि शिक्षक मरकाम की यह हरकत छत्तीसगढ़ सिविल सेवा (आचरण) नियम 1965 के प्रावधानों के विपरीत है, इसलिए शिक्षक को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया गया है।

कोंडागांव जिले के कलेक्टर पुष्पेंद्र कुमार मीणा ने बताया कि​ मरकाम के खिलाफ मिली शिकायत की जांच के बाद बुधवार को उसे निलंबित करने का आदेश दिया गया। मीणा ने बताया कि स्थानीय ग्राम पंचायत और ग्रामीणों ने शिकायत की थी कि मरकाम ने मंगलवार 31 अगस्त को स्कूल के सातवीं और आठवीं कक्षा में पढ़ने वाले छात्रों को कृष्ण जन्माष्टमी (सोमवार) के अवसर पर उपवास रखने के कारण पिटाई की थी और भगवान श्रीकृष्ण को लेकर कथित रूप से अभद्र भाषा का प्रयोग किया था। उन्होंने बताया कि ग्रामीणों ने जिला प्रशासन को इस संबंध में आडियो और वीडियो सबूत भी सौंपा था।

कलेक्टर ने बताया कि घटना के बाद जिला प्रशासन ने अधिकारियों को गांव भेज कर मामले की जांच कराने का फैसला किया और जांच रिपोर्ट के आधार पर मरकाम को निलंबित कर दिया गया है। मीणा ने बताया कि जिला प्रशासन ने इस संबंध में आगे की कार्रवाई के लिए पुलिस को भी इसकी सूचना दे दी है।

जिले के एक अन्य अधिकारी ने बताया कि जानकारी मिली है 30 अगस्त सोमवार को जन्माष्टमी के बाद छात्र दूसरे दिन मंगलवार को स्कूल पहुंचे तब मरकाम ने छात्रों से पूछा कि कितने छात्रों ने कृष्ण जन्माष्टमी पर उपवास रखा और पूजा अर्चना की, बाद में जिन छात्रों ने अपना हाथ उठाया मरकाम ने उनकी पिटाई कर दी।

वहीं जिले के पुलिस अधिकारियों ने बताया है कि पुलिस को इस संबंध में शिकायत मिली है और जल्द ही उचित कार्रवाई की जाएगी। पुलिस अधिकारियों ने बताया है कि पुलिस को जिला प्रशासन और ग्रामीणों से मरकाम के खिलाफ शिकायत मिली है, वहीं सर्व आदिवासी समाज ने शिकायत की है कि कुछ ग्रामीणों ने शिक्षक की पिटाई की थी। उन्होंने बताया कि दोनों ओर से शिकायत के बाद पुलिस मामले की जांच कर रही है और इस संबंध में उचित कार्रवाई की जाएगी।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट