ताज़ा खबर
 

डिजिटल भुगतान करने पर वापस मिलेंगे पैसे

कंपनी ने यस बैंक के साथ मिलकर यूपीआई के जरिए भुगतान पर भी कैश बैक स्कीम शुरू की है। इसका मकसद डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देना और भारत सरकार की डिजिटल इंडिया पहल में योगदान करना है।

प्रतीकात्मक तस्वीर।

डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने तथा उपभोक्ताओं को पुरस्कृत करने के मकसद से टाटा पावर-डीडीएल मोबाइल पेमेंट प्लेटफार्मों के जरिए भुगतान करने पर पैसे वापसी योजना (कैश बैक स्कीम) लेकर आया है। कंपनी ने इस सिलसिले में अनेक मोबाइल वॉलेट प्लेटफार्मों जैसे पेटीएम, यस बैंक, फोनपे, मोबिक्विक, फ्रीचार्ज, एयरटेल पेमेंट्स बैंक के साथ करार किया है और 31 मार्च 2018 से पहले भुगतान करने वाले उपभोक्ताओं के लिए कैश बैक की घोषणा की है।

कंपनी ने यस बैंक के साथ मिलकर यूपीआई के जरिए भुगतान पर भी कैश बैक स्कीम शुरू की है। इसका मकसद डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देना और भारत सरकार की डिजिटल इंडिया पहल में योगदान करना है। टाटा पावर-डीडीएल ने अपने पेटीएम के जरिए बिलों का भुगतान करने वाले उपभोक्तओं के लिए दो कैश बैक आॅफर घोषित किये हैं। नए पेटीएम यूजर्स को प्रोमोकोड टीडीडीएल100 का इस्तेमाल कर बिजली बिलों का भुगतान करने पर 10 फीसद (अधिकतम 100 रुपए) कैश बैक मिलेगा। मौजूदा ग्राहकों को भी टीडीडीएल 50 प्रोमोकोड का इस्तेमाल करने पर 10 फीसद (अधिकतम 50 रुपए) कैश बैक मिलेगा।

इसी तरह, मोबाइल वॉलेट फोनपे के जरिए भुगतान करने वाले उपभोक्ताओं को 1000 रुपए तक कैश बैक जीतने का मौका मिलेगा और वे न्यूनतम 300 रुपए के बिल भुगतान पर 30 रुपए का कैश बैक प्राप्त कर सकते हैं। कंपनी ने यूपीआई का इस्तेमाल कर भुगतान करने वाले प्रत्येक 10वें उपभोक्ता को 250 का फ्लैट कैश बैक देने की घोषणा की है। उपभोक्ता मोबिक्विक वॉलेट के जरिए अपने बिलों का भुगतान करने पर कैश बैक (2 बिलों के भुगतान पर अधिकतम 300 प्रत्येक पर) भी प्राप्त कर सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App