ताज़ा खबर
 

तमिलनाडु ने केरल सरकार के पानी देने के प्रस्ताव को ठुकराया, कहा- हमें नहीं है मदद की जरुरत

केरल सरकार ने दावा किया कि तमिलनाडु को 20 लाख लीटर पेयजल मुहैया कराने का प्रस्ताव दिया था लेकिन तमिलनाडु ने उनकी पेशकश को ठुकरा दिया।

तिरुवनंतपुरम | June 21, 2019 11:02 AM
प्रतीकात्मक फोटो फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

तमिलनाडु में इस समय पानी की किल्लत चल रही है। केरल सरकार ने  दावा किया कि उसने तमिलनाडु को 20 लाख लीटर पेयजल मुहैया कराने की इच्छा जताई थी लेकिन तमिलनाडु ने ‘अभी मदद की जरूरत नहीं है’ कहते हुए इस पेशकश को ठुकरा दिया। हालांकि तमिलनाडु सरकार ने पेशकश ठुकराने वाली बात से इनकार किया है। उनका कहना है कि मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी शुक्रवार (21 जून) को आयोजित होने वाली एक समीक्षा बैठक में इस पर चर्चा करने के बाद ‘उचित फैसले की घोषणा’ करेंगे।

द्रमुक प्रमुख ने तमिलनाडु सरकार से की अपीलः द्रमुक प्रमुख एम के स्टालिन ने तमिलनाडु सरकार से अपील की है कि वह लोगों की मदद करने के लिए केरल के साथ मिलकर काम करें। स्टालिन ने केरल के मुख्यमंत्री की इस पेशकश के लिए उनका आभार जताया। केरल में पानी के भंडारण की स्थिति बेहतर बनी हुई है।
National Hindi News, 21 june 2019 LIVE Updates: दिनभर की खबरें जानने के लिए यहां क्लिक करें

केरल के मुख्यमंत्री कार्यालय ने जारी किया बयानः इससे पहले केरल के मुख्यमंत्री कार्यालय ने एक बयान जारी किया था, ‘जैसा कि चेन्नई के बड़े जलाशय पानी की कमी का सामना कर रहे हैं तो ऐसी स्थिति में केरल सरकार ने मदद का हाथ बढ़ाने का निर्णय लिया है।’ बता दें तमिलनाडु में इस समय लोगों के घरों में पीने का पानी तक नहीं मिल रहा है। मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि मानसून में देरी और भूजल में गिरावट की समस्या के चलते कई क्षेत्र पानी की समस्या से जूझ रहे हैं। पानी की समस्या के चलते राज्य में स्कूलों की टाइमिंग में बदलाव किया गया है ताकि बच्चों को किसी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े। वहीं कुछ दफ्तरों ने अपने कर्मचारियों को घर से ही काम करने के लिए कहा है।

Next Stories
1 Maharashtra: फडणवीस सरकार का ऐलान- राज्य के सभी CBSE और ICSE स्कूलों में मराठी भाषा बनाई जाएगी अनिवार्य
2 CM योगी हुए सख्त, कहा- भ्रष्ट अफसरों को जबरन दिया जाए VRS, नहीं हैं ऐसे लोगों की जरुरत
3 राष्ट्रपति के भाषण के दौरान फोन पर बिजी थे राहुल गांधी, आनंद शर्मा बोले- कठिन हिंदी शब्दों का कर रहे थे अनुवाद
ये  पढ़ा क्या?
X