ताज़ा खबर
 

VIDEO: बच्चे चुराने की आरोपी महिला को पानी में फेंका, फिर खुद को बताने लगा ‘बाहुबली’

वीडियो में सुनाई दे रहा है कि एक व्यक्ति पीछे से चिल्ला रहा है कि फेंक दो, फेंक दो। इसे पानी में फेंक दो। यह नहायी भी नहीं है, इसे पानी में छोड़ दो। वहीं, एक व्यक्ति इस दौरान महिला को गोद में लेकर पानी में खड़ा है और उसे डराने की कोशिश कर रहा है।
वीडियो का एक दृश्य (image source-Youtube grab image)

सोशल मीडिया पर इन दिनों एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें दक्षिण भारत में कुछ लोग एक बूढ़ी महिला को समुद्र तट पर से पानी में फेंकते नजर आ रहे हैं। दरअसल, लोगों को शक था कि महिला इलाके से बच्चे चुराती है। इसी वजह से लोग उसे डराने के मकसद से ऐसा कर रहे थे। वीडियो कन्याकुमारी के पास का बताया जा रहा है। इस वीडियो में दिखाई दे रहा है कि एक व्यक्ति पीड़ित महिला को गोद में उठाए हुए पानी में खड़ा है और एक अन्य व्यक्ति उसका वीडियो बना रहा है।

वीडियो में सुनाई दे रहा है कि एक व्यक्ति पीछे से चिल्ला रहा है कि फेंक दो, फेंक दो। इसे पानी में फेंक दो। यह नहायी भी नहीं है, इसे पानी में छोड़ दो। वहीं, एक व्यक्ति इस दौरान महिला को गोद में लेकर पानी में खड़ा है और उसे डराने की कोशिश कर रहा है। इस दौरान वीडियो बना रहा व्यक्ति हंस रहा है और दूसरे व्यक्ति को ‘महेन्द्र बाहुबली’ कह रहा है। बता दें कि कुछ समय पहले आयी फिल्म बाहुबली में भी एक ऐसा सीन था, जिसमें हीरो अपने कंधे पर शिवलिंग उठाकर चल रहा है। इसके बाद आरोपी महिला को पानी में छोड़ भी देता है।

इसी मामले के एक अन्य वीडियो में पीड़ित महिला एक पेड़ से बंधी दिखाई दे रही है और लोगों से उसे छोड़ देने की विनती कर रही है। लोग इस दौरान पीड़ित महिला को पानी भी पिला रहे हैं। बहरहाल इस पूरे मामले पर पुलिस का कहना है कि स्थानीय लोगों ने बच्चा चुराने के शक में महिला को पानी में ले जाकर डराने की कोशिश की। पुलिस का कहना है कि महिला मानसिक रूप से बीमार है और उसे पूछताछ के बाद छोड़ दिया गया है। पुलिस के अनुसार, महिला नजदीक के ही एक गांव की रहने वाली है। इससे पहले ऐसी ही एक घटना में चेंगलपट्टु इलाके में स्थित एक धर्मशाला को लोगों ने बंद करा दिया था। दरअसल, स्थानीय लोगों को शक था कि धर्मशाला में मानव अंगों का अवैध व्यापार किया जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App