ताज़ा खबर
 

जयललिता के बारे में अफवाह फैलाने का समाधान गिरफ्तारी नहीं है: मानवाधिकार आयोग

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष एच. एल. दत्तू ने शुक्रवार (21 अक्टूबर) को कहा कि मुख्यमंत्री जयललिता के स्वास्थ्य के बारे में अफवाह फैलाने के मुद्दे पर लोगों की गिरफ्तारी समस्या का कोई समाधान नहीं है..

Author नई दिल्ली | Updated: October 22, 2016 12:03 AM

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष एच. एल. दत्तू ने शुक्रवार (21 अक्टूबर) को कहा कि मुख्यमंत्री जयललिता के स्वास्थ्य के बारे में अफवाह फैलाने के मुद्दे पर लोगों की गिरफ्तारी समस्या का कोई समाधान नहीं है और इससे निपटने के दूसरे रास्ते हैं। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ह्यलोगों को अभिव्यक्ति का मूलभूत अधिकार है। उच्चतम न्यायालय ने इस बारे में कई फैसले दिए हैं। हाल के फैसले में इसने इसे ठीक ठहराया है। और चाहे 500 हो या 505 (भादंसं की धारा), गिरफ्तारी समाधान नहीं हो सकता है। अफवाह फैलाने से रोकने के लिए दूसरे रास्ते हैं। जयललिता के स्वास्थ्य के बारे में अफवाह फैलाने को लेकर तमिलनाडु में कई लोगों की गिरफ्तारी के परिप्रेक्ष्य में भारत के पूर्व प्रधान न्यायाधीश का यह बयान आया है। वह 1993 में गठित राष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस के स्थापना दिवस के अवसर पर यहां एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।

जयललिता को बुखार और शरीर में पानी की कमी की शिकायत के बाद 22 सितम्बर को चेन्नई के अपोलो अस्पताल में भर्ती कराए जाने के तुरंत बाद फेसबुक और व्हाट्सएप्प जैसे सोशल नेटवर्किंग साइट पर उनके स्वास्थ्य के बारे में काफी अफवाहें फैलाई गई। उनका अब भी अस्पताल में इलाज चल रहा है। अफवाह फैलाने के मामले में पुलिस ने अभी तक 43 मामले दर्ज किए हैं।

Next Stories
1 आत्महत्या से पहले रोहित वेमुला ने खुद को बताया था ‘दलित’, सामने आया वीडियो
2 तमिलनाडु: प्लास्टिक पर बैन लगवाने के लिए युवक ने किया सुसाइड, कहा- 121 करोड़ लोगों के लिए दे रहा जान
3 श्रीलंकाई नेवी ने किया हमला- 7 भारतीय मछुआरे हुए घायल
ये पढ़ा क्या?
X