ताज़ा खबर
 

तो ये है CM जयललिता की हॉस्पिटल वाली वायरल तस्वीर का सच

बुखार और डिहाइड्रेशन की शिकायत के बाद जयललिता को 22 सितंबर को अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था। इसके बाद से ही उनके स्वास्थ्य से जुड़ी कई खबरें और तस्वीर लोगों के सामने आई।

Author October 5, 2016 12:18 PM
सोशल मीडिया पर एक तस्वीर भी वायरल हुई, जिसे मुख्यमंत्री जयललिता का बताया गया।

पिछले 11 दिन से तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता चेन्नई के अपोलो हॉस्पिटल में एडमिट हैं। वह डिहाइड्रेशन और बुखार से पीड़ित हैं। हॉस्पिटल की ओर से लगातार उनके स्वास्थ्य की रिपोर्ट जारी की जा रही है, जिसके मुताबिक हालत में लगातार सुधार हो रहा है। लेटेस्ट अपडेट के मुताबिक, “सीएम का उपचार चल रहा है। वे बीमारी से उबर रही हैं। उन्‍हे आराम की जरूरत है और वे जल्‍द ही अस्‍पताल से लौटेंगी।” इतना ही नहीं, मद्रास हाईकोर्ट में एक याचिका भी डाली गई, जिसमें सरकार से जयललिता के स्वास्थ्य की डीटेल रिपोर्ट मांगी गई और हॉस्पिटल में उनके सहयोगियों के साथ मीटिंग की फोटोग्राफ भी मांगी गई थीं।

वहीं, इस बीच जयललिता के स्वास्थ्य से जुड़ी कई खबरें और तस्वीर लोगों के सामने आई। सोशल मीडिया पर एक तस्वीर भी वायरल हुई, जिसे मुख्यमंत्री जयललिता का बताया गया। तस्वीर में एक महिला हॉस्पिटल के बेड पर लेटी है, जिसके मुह पर ऑक्सिजन मास्क लगा है और चारों और मेडिकल यंत्र लगे हैं। यह तस्वीर डीएमके प्रेसिडेंट एम करुणानिधि के जयललिता की फोटो मांगने के बाद वायरल हुई।

वीडियो: NIA ने ISIS से प्रेरित मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया, 6 गिरफ्ता

ये है तस्वीर का सच:
दरअसल यह तस्वीर फेक है। The News Minute की रिपोर्ट के मुताबिक, यह तस्वीर पेरू देश की राजधानी लीमा में स्थित EsSalud हॉस्पिटल की है। रिपोर्ट में बताया गया कि यह तस्वीर उनकी वेबसाइट पर पहले से लगी थी। इसके साथ लिखा है, “EsSalud हॉस्पिटल में एक इन्टेंसिव केयर यूनिट।” इतना ही नहीं, अगर तस्वीर को ध्यान से देखा जाए तो दीवार पर लगा हॉस्पिटल का लोगो साफ तौर पर देखा जा सकता है।

Read Also: जयललिता के बेहतर स्वास्थ्य के लिए प्रशंसकों ने पार की सारी हदें- हूक पर लटकने से लेकर खुद को लगाई आग

गौरतलब है कि बुखार और डिहाइड्रेशन की शिकायत के बाद जयललिता को 22 सितंबर को अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था। इसके बाद से ही उनके स्वास्थ्य को लेकर हॉस्पिटल के बाहर पूजा-पाठ होने लगा था। “अम्मा” की फिक्र करने वालों का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि उनकी तबियत बिगड़ने की खबरे से दुखी एक कार्यकर्ता की हार्टअटैक से मौत हो गई। उनकी पार्टी एआईएडीएमके ने इन रिपोर्टों का खंडन किया है कि मुख्‍यमंत्री गंभीर रूप से बीमार हैं। पार्टी की ओर से कहा गया है कि वे बीमारी से उबर रही हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X