ताज़ा खबर
 

जल्लीकट्टू बैन के खिलाफ प्रदर्शन उग्र: मरीना बीच पर 4000 प्रदर्शनकारी डटे, कहा- मांग पूरी होने पर ही हटेंगे

जल्लीकट्टू पर लगे बैन के खिलाफ प्रदर्शन मंगलवार को शुरु हुआ था।

प्रदर्शनकारी रात में भी मरीना बीच पर डटे हुए थे। ((Photo Source: Indian Express/Arun Janardhan))

तमिलनाडु में जल्लीकट्टू पर लगे बैन के विरोध में लोगों का प्रदर्शन दूसरे दिन भी जारी है। मदुरैई, चेन्नई, सलेम और कोयंबटूर में हजारों लोगों इस बैन के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। इसके खिलाफ प्रदर्शन मंगलवार को सुबह मदुरैई से शुरू हुआ था, लेकिन जब पुलिस ने करीब 200 लोगों को वहां से गिरफ्तार कर लिया तो यह प्रदर्शन पूरे राज्य में फैल गया।

करीब 5 हजार से ज्यादा प्रदर्शनकारी मंगलवार रात से मरीना बीच पर बने हुए हैं। राज्य के मंत्री डी जयकुमार ने मंगलवार रात को प्रदर्शनकारियों से बातचीत की थी, लेकिन वे कामयाब नहीं हो पाए। प्रदर्शनकारियों का कहना कि जब तक केंद्र सरकार उनकी मांग नहीं मानेगी, वे प्रदर्शन बंद नहीं करेंगे। उनका मांग है कि जल्लीकट्टू से बैन हटे, पेटा पर बैन लगे और सूखा पीड़ित किसानों को मुआवजा दिया जाए।

करीब 50 प्रदशनकारियों का समूह मंगलवार सुबह प्रदर्शन के लिए इकट्ठा हुआ था, लेकिन शाम तक यह भीड़ करीब तीन हजार हो गई थी। आईटी प्रोफेशनल्स, वर्कर्स, छात्र और अपने बच्चों के साथ परिवार मरीना बीच पर कैंप डाले हुए हैं। ये लोग राज्य ओ पन्नीरसेलवम से उनकी मांग को लेकर भरोसे का इंतजार कर रहे हैं। यह प्रदर्शन बिना किसी नेता और नेतृत्व के हो रहा है। प्रदर्शनकारी सोशल मीडिया के जरिए लोगों से प्रदर्शन में शामिल होने की अपील कर रहे हैं। प्रदर्शनकारियों ने मीडिया पर भी गुस्सा निकालते हुआ कहा कि टीवी चैनल प्रदर्शन की कवरेज नहीं दिखा रहे हैं।

(Photo Source: Indian Express/Arun Janardhan) (Photo Source: Indian Express/Arun Janardhan)

फिल्म अभिनेता विजय, सिम्बू, सूर्या और डायरेक्टर आमिर, कार्तिक सुब्बाराज ने वीडियो मैसेज के जरिए प्रदर्शनकारियों के साथ रहने की बात कही है। वहीं अभिनेता प्रतिबन को प्रदर्शनकारियों ने उस वक्त खदेड़ दिया, जब वे वहां पहुंचे और टीवी इंटरव्यू देने लगे।

(Photo Source: Indian Express/Arun Janardhan) (Photo Source: Indian Express/Arun Janardhan)

एक सीनियर पुलिस अधिकारी ने बताया कि इसकी वजह से लॉ एंड ऑर्डर की समस्या पैदा हो सकती है। उन्होंने कहा, ‘हम एक दिन और इतनी संख्या में लोगों को वहां नहीं रहने दे सकते। हमें उम्मीद है कि सरकार कुछ राजनीतिक फैसला लेकर इस मामले को खत्म कर देगी।’

चैन्नई: जल्लीकट्टु पर लगे बैन का विरोध करने के लिए मरीना बीच पर एकत्र हुए लोग

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App