ताज़ा खबर
 

कर्नाटक के नाटक को रजनीकांत ने बताया ‘लोकतंत्र का मजाक’, बीजेपी पर भड़के

रजनीकांत ने कर्नाटक के हाल में घटे घटनाक्रम को लेकर बीजेपी को आड़े हाथों लिया है। रजनीकांत ने साफ कहा कि कल कर्नाटक में जो भी हुआ वह लोकतंत्र की जीत है। इसके लिए वह देश के सुप्रीम कोर्ट को धन्यवाद देना चाहते हैं।

चेन्‍नई में अपनेे समर्थकों को संबोधित करतेे फिल्‍म सुपरस्‍टार रजनीकांत। फाेटो-एएनआई

फिल्म सुपरस्टार रजनीकांत ने रविवार (20 मई) को चेन्नई में बड़ा बयान दिया है। रजनीकांत ने कर्नाटक के हाल में घटे घटनाक्रम को लेकर बीजेपी को आड़े हाथों लिया है। रजनीकांत ने साफ कहा कि कल कर्नाटक में जो भी हुआ वह लोकतंत्र की जीत है। इसके लिए वह देश के सुप्रीम कोर्ट को धन्यवाद देना चाहते हैं। वहीं रजनीकांत ने नई राजनीतिक पार्टी बनाने के सवाल पर कहा कि 2019 में चुनाव लड़ने का फैसला समय आने पर लिया जाएगा।

दक्षिण भारतीय और बॉलीवुड़ फिल्मों के बड़े सितारे रजनीकांत ने रविवार को भाजपा पर जोरदार जुबानी हमला बोला है। फिल्मस्टार रजनीकांत ने समाचार एजेंसी एएनआई को दिए बयान में कहा,’कर्नाटक मेें कल जो भी हुआ, वह लोकतंत्र की जीत है। बीजेपी ने कुछ समय मांगा था लेकिन राज्यपाल ने उन्हें पूरे 15 दिनों का वक्त दे दिया। ये लोकतंत्र का उपहास है। मैं सुप्रीम कोर्ट को उनके दिए हुए आदेशों के लिए धन्यवाद देना चाहता हूं, उनके कारण ही देश में लोकतंत्र सुरक्षित है।”

वहीं 2019 में नई पार्टी बनाकर चुनाव लड़ने के फैसले पर भी रजनीकांत ने बात की। उन्होंने समाचार एजेंसी एएनआई को दिए अपने बयान में कहा,”साल 2019 में चुनाव लड़ने का फैसला चुनावों की घोषणा होने के बाद लिया जाएगा। मेरी पार्टी की घोषणा अभी नहीं की गई है। लेकिन किसी भी किस्म के गठबंधन के बारे में बात करना अभी जल्दबाजी होगी।”

बता दें कि फिल्म स्टार रजनीकांत का ​​दक्षिण भारत में बड़ा समर्थक वर्ग है। अपनी कई फिल्मों में भी रजनीकांत तमिलनाडु की जनता के कल्याण के लिए काम करते हुए नजर आते हैं। उनकी यही छवि लोगों में उन्हें लोकप्रिय बनाती है। इसी कारण उन्होंने साल 2017 में चुनावी राजनीति में उतरने का ऐलान किया था। रजनीकांत ने कहा था कि वह अपनी राजनीतिक पार्टी बनाकर चुनावी राजनीति में उतरेंगे। उन्होंने यह भी दावा किया था कि अगर वह अपने वादों पर खरे नहीं उतर सके तो ढाई साल में ही सरकार से इस्तीफा दे देंगे। कर्नाटक में हाल में जारी राजनीतिक उथलपुथल पर उनका बयान भी उनके राजनीति में आगाज से ही जोड़कर देखा जा रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App