ताज़ा खबर
 

कॉलेज में आपदा प्रबंधन की ट्रेनिंग के दौरान ऊंचाई से गिरकर छात्रा की मौत, वीडियो में रिकॉर्ड हुई खौफनाक घटना

तमिलनाडू के कोयंबटून में आपदा प्रबंधन के गुर सिखाने के दौरान एक छात्रा की मौत हो गई। पूरी घटना का एक वीडियो में कैद हो गई। पुलिस ने ट्रेनर को हिरासत में ले लिया है।

तमिलनाडू में आपदा ड्रिल के दौरान छात्रा की मौत (Pic Credit- Video grab)

आपदा प्रबंधन की ट्रेनिंग के दौरान एक छोटी सी लापरवाही किसी की जिंदगी समाप्त कर देती है। ऐसी ही एक घटना सामने आयी है तमिलनाडू के कोयंबटूर से। गुरुवार को कोयंबटूर के एक कॉलेज में आपदा प्रबंधन ड्रिल के दौरान 1 9 वर्षीय छात्रा की मृत्यु हो गई। छात्रा का नाम लोकेश्वरी है। वह काली मंगल आर्ट्स एंड साइंस कॉलेज में बीबीए कोर्स की दूसरे वर्ष की पढ़ाई कर रही थी। जानकारी के अनुसार, कल शाम करीब 4 बजे कॉलेज के छात्रों को अापदा के दौरान बचने के गुर सिखाए जा रहे थे। बताया जा रहा था कि आपदा के दौरान खुद कैसे बचें और दूसरों को कैसे बचाएं। इसी दौरान दूसरे तल से नीचे उतरने के दौरान एक छोटी सी लापरवाही जिंदगी पर भारी पड़ गई। छात्रा की मौत हो गई। यह पूरी घटना एक वीडियो में रिकार्ड हो गई है।

प्रशिक्षण सत्र के दौरान का एक वीडियो सामने आया है। इसमें यह दिखाया गया है कि लोकेश्वरी दूसरी मंजिल स्थित बालकनी के किनारों पर खड़ी है और जहां उसके आगे खड़े ट्रेनर अरुमुगन उसे नीचे उतरने के लिए कह रहे हैं। घटनास्थल पर मौजूद लोगों के अनुसार, लोकेश्वरी दूसरे मंजिल से नीचे नहीं उतरना चाहती थी। वह शायद डर रही थी। लेकिन इस बीच ट्रेनर ने उसकी मनोदशा को न समझ, उसे जबरदस्ती धक्का दिया। अचानक हुए इस घटना के लिए वह तैयार नहीं थी। उसका संतुलन बिगड़ गया और वह सिर के बल नीचे जमीन पर गिर पड़ी। नीचे खड़े लोग उसे पकड़ने की तैयारी में थे। पर अफसोस! वह बालकनी के किनारे से टकराकर घायल हो गई और जमीन पर गिर गई।

लोकेश्वरी को तत्काल नजदीक के अस्पताल में ले जाया गया। वहां डॉक्टरों ने इलाज करने से इंकार कर दिया। बाद में उसे सरकारी अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है और घरवालों को इसकी सूचना दे दी है।वहीं इस दर्दनाक घटना के बाद पुलिस ने ट्रेनर अरूमुगन को हिरासत में ले लिया है और उसके खिलाफ लापरवाही की वजह से मौत का कारण बनने का मामला दर्ज किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App