scorecardresearch

तमिलनाडुः रथयात्रा में करंट से झुलसकर दो बच्चों समेत 11 की मौत, दुख जता मोदी ने PMNRF से मुआवजे का किया ऐलान

जब तंजावुर जिले के कालीमेडू से रथयात्रा गुजर रही थी, उसी दौरान ये करंट की चपेट में आ गई, जिसमें 11 लोगों की मौत हो गई।

tamilnadu| rathyatra| kalimedu|
रथयात्रा में 10 लोगों की मौत हो गई (फोटो सोर्स: @Ani)

तमिलनाडु में मंगलवार रात (26 अप्रैल, 2022) को एक मंदिर की रथयात्रा के दौरान बड़ा हादसा हो गया। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, तंजावुर जिले में इस घटना के दौरान करंट से झुलस कर 11 लोगों की मौत हो गई। बताया गया कि वे लोग नंगे बिजली के तार की चपेट में आ गए थे, जिसके बाद यह हादसा हुआ। इस घटना को लेकर पुलिस ने एफआईआर भी दर्ज कर ली है।

वहीं इस दर्दनाक हादसे में करीब 15 लोग घायल भी हुए हैं। तिरुचिरापल्ली सेंट्रल जोन के पुलिस महानिरीक्षक वी. बालकृष्णन ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि, “तंजावुर जिले में एक मंदिर की कार (रथ उत्सव की) एक जीवित तार के संपर्क में आ गई जिसमें अब तक 11 लोगों की मौत हो गई है और 15 अन्य घायल हो गए हैं। इस मामले में प्राथमिकी (एफआईआर) दर्ज की गई है।”

बताया जा रहा है कि इस हादसे में 2 बच्चे की भी मौत हुई है। वहीं घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हादसे की सूचना मिलते ही पुलिस – प्रशासन मौके पर पहुंचा और राहत बचाव के कार्य में जुट गए। कालीमेडु में मंदिर में 94वां अप्पर गुरुपूजा उत्सव मनाया जा रहा है। इस उत्सव में शामिल होने के लिए मंगलवार रात से ही आसपास के इलाकों से श्रद्धालुओं की भारी भीड़ इक्कठा हुई थी।

वहीं इस दर्दनाक हादसे में कई लोगों की जान बच गई क्योंकि भीड़ अधिक होने के कारण ज्यादा लोगों की जान जा सकती थी। सड़क पर गड्ढे थे और और इसी कारण काफी लोग रथयात्रा से पीछे छूट गए थे, जिससे वो उस समय रथयात्रा के आसपास नहीं थे जब रथयात्रा करंट की चपेट में आई। रथ और उसके आसपास करीब 50 लोग थे। घटना का एक वीडियो भी सामने आया है जिसमें साफ तौर पर देखा जा सकता है कि नंगे तार की चपेट में आने से रथ पूरी तरह से खत्म हो गया।

वहीं घटना पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दुख जताया है। पीएम मोदी ने ट्वीट के माध्यम से कहा कि, “तमिलनाडु के तंजावुर में हुए हादसे से गहरा दुख हुआ। इस दुख की घड़ी में मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। मुझे उम्मीद है कि घायल लोग जल्द ठीक हो जाएंगे।हादसे में जान गंवाने वालों के परिजनों को पीएमएनआरएफ की ओर से दो-दो लाख रुपये दिए जाएंगे। घायलों को 50 हजार रुपये दिए जाएंगे।”

वहीं तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने भी घटना पर दुख जताया है और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है। साथ ही मुख्यमंत्री राहत कोष से मृतकों के परिजनों को 5 लाख रुपए की राशि मुआवजे के रूप में देने की घोषणा की है।

पढें चेन्‍नई (Chennai News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट