Record 77 Percent Polling In Chennai's RK Nagar, Highest Since 2011 - तमिलनाडुः आरके नगर उपचुनाव में दिखा मतदाताओं का जोश, 2011 के बाद रिकॉर्ड 77 फीसदी वोटिंग - Jansatta
ताज़ा खबर
 

तमिलनाडुः आरके नगर उपचुनाव में दिखा मतदाताओं का जोश, 2011 के बाद रिकॉर्ड 77 फीसदी वोटिंग

अन्नाद्रमुक सुप्रीमो जे.जयललिता के बीते साल दिसंबर में निधन के बाद यह सीट खाली हो गई थी, लिहाजा यह उपचुनाव कराया गया।

RK Nagar By Poll Election Live: चेन्नई की आर के नगर सीट पर मतदान के लिए वोटरों की लंबी कतार देखी जा रही है।

तमिलनाडु में आर.के नगर विधानसभा सीट के लिए आज (गुरुवार) मतदान हुआ। उपचुनाव में 77 फीसदी लोगों ने अपने मत का इस्तेमाल किया। साल 2011 के बाद से अब तक यहां सर्वाधिक मतदान हुआ है। 2016 में यहां 67.6 फीसदी लोगों ने मतदान किया था। क्षेत्र में कुल 2,28,234 मतदाता हैं। अच्छी बात थी कि मतदान के वक्त कहीं से भी अप्रिय घटना की सूचना नहीं आई। निर्वाचन अधिकारियों ने कहा कि ईवीएम में गड़बड़ी संबंधी कुछ मामले सामने आए हैं, जिन्हें तत्काल दुरुस्त किया गया और मतदान तेज से कराया गया। आपको बता दें कि अन्नाद्रमुक सुप्रीमो जे.जयललिता के बीते साल दिसंबर में निधन के बाद यह सीट खाली हो गई थी, लिहाजा यह उपचुनाव कराया गया। मतदान सुबह ठीक आठ बजे शुरू हुआ था। अधिकारियों के मुताबिक, करीब 60 फीसदी मतदाताओं ने अपराह्न तीन बजे तक मतदान किया था। सुबह आठ बजे मतदान का समय शुरू होते ही मतदान केन्द्रों पर लंबी पंक्तियां देखने को मिलीं। कुछ जगहों पर महिलाओं की संख्या पुरुषों से ज्यादा दिखी।

शाम पांच बजे मतदान बंद होने के समय भी बड़ी संख्या में लोग पंक्तियों में नजर आए। ईवीएम में गड़बड़ी संबंधी कुछ मामले सामने आए जिससे मतदान में थोड़ी देरी हुई। कुछ मतदाताओं ने मतदाता सूची से उनका नाम कटने की शिकायतें भी कीं। जबकि अन्य ने दावा किया कि उनके नाम गलती से ‘‘मृतकों’’ की श्रेणी में शामिल कर दिए गए। अन्नाद्रमुक सुप्रीमो जे जयललिता के पिछले साल दिसंबर में निधन के बाद यह सीट रिक्त होने के कारण यह उपचुनाव कराया गया। सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक के लिए आज का उपचुनाव अग्निपरीक्षा जैसा है क्योंकि जयललिता के निधन के बाद यह पहला चुनाव है।

उपचुनाव में सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक के ई मधुसूदनन, मुख्य विपक्षी दल द्रमुक के एन मरूथु गणेश और निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ रहे अन्नाद्रमुक से दरकिनार किए गए नेता टीटीवी दिनाकरण मुख्य प्रतिद्वंद्वी हैं। दिनाकरण निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में मैदान में हैं। उपचुनाव के लिए हालांकि भाजपा उम्मीदवार समेत मैदान में 59 प्रत्याशी हैं, लेकिन मुख्य मुकाबला अन्नाद्रमुक, दिनाकरण धड़े और द्रमुक के बीच है।

मतदान शांतिपूर्ण रहा। मतदान के दौरान सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए राज्य पुलिस के 2,500 र्किमयों और सीआरपीएफ सहित केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल की 15 कंपनियों को 258 मतदान केन्द्रों पर तैनात किया गया। चुनाव प्रक्रिया में 1638 मतदान कर्मी शामिल हुए। आर. के. नगर विधानसभा क्षेत्र के कुल 2,28,234 मतदाताओं में से 1,10,903 पुरूष, 1,17,232 महिलाएं और 99 ट्रांसजेंडर हैं। इस सीट का जयललिता दो बार प्रतिनिधित्व कर चुकी हैं। मतगणना 24 दिसंबर को होगी और उसी दिन दोपहर तक परिणाम आने की उम्मीद है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App