scorecardresearch

10वीं के छात्र ने कैंची से गोदकर सहपाठी को मार डाला, क्रिकेट खेलने के दौरान हुआ था झगड़ा

आरोपी नाबालिग छात्र ने 29 जुलाई (सोमवार) को अपने सहपाठी को कैंची से गोद दिया। गंभीर घायल पीड़ित छात्र ने अस्पताल ले जाते वक्त दम तोड़ दिया।

death
प्रतीकात्मक तस्वीर फोटो सोर्स – इंडियन एक्सप्रेस
तमिलनाडु स्थित कोडैकनाल के एक आवासीय स्कूल में 10वीं कक्षा के एक छात्र ने अपने सहपाठी की कैंची से गोदकर हत्या कर दी। पुलिस ने 31 जुलाई (बुधवार) को यह जानकारी दी। पुलिस ने बताया कि क्रिकेट खेलते वक्त दोनों छात्रों के बीच हुए झगड़े के बाद यह वारदात हुई। आरोपी को किशोर सुधार गृह में भेज दिया गया है।

अस्पताल जाते वक्त तोड़ दिया दमः उन्होंने बताया कि आरोपी नाबालिग छात्र ने 29 जुलाई (सोमवार) को अपने सहपाठी को कैंची से गोद दिया था। गंभीर घायल छात्र ने अस्पताल ले जाते वक्त दम तोड़ दिया। पुलिस ने बताया कि पूछताछ के दौरान आरोपी छात्र ने बताया कि उसने अपने सहपाठी की हत्या की।

आरोपी को किशोर सुधार गृह में भेजा गयाः उन्होंने बताया कि नाबालिग छात्र को बुधवार को यहां न्यायिक मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया, जिसने उसे सलेम जिले के एक किशोर सुधार गृह भेज दिया। स्कूली छात्रों द्वारा सहपाठियों के साथ हिंसक वारदात को अंजाम देना आजकल आम हो गया है। बता दें कि इससे पहले पिछले साल गुड़गांव के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में एक छात्र को स्कूल में ही मार दिया गया था। इस घटना में पहले स्कूल बस के कंडक्टर को गिरफ्तार किया गया था लेकिन बाद में पता चला कि उसके ही एक दोस्त ने उसकी हत्या की थी। इस केस में अभी भी जांच जारी है। वहीं उत्तराखंड के एक स्कूल में भी ऐसा ही मामला सामने आया था। इस मामले को दबाने के लिए स्कूल प्रबंधन ने किसी को भनक लगने से पहले ही बच्चे का अंतिम संस्कार कर दिया था। इसके बाद इस मुद्दे पर काफी विरोध हुआ था। इस तरह की घटनाएं देश के लगभग हर राज्य से इन दिनों सामने आ रही हैं। लेकिन इन पर लगाम नहीं लग पा रही है।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट