ताज़ा खबर
 

चेन्नई: मॉल की चौथी मंजिल से कूदा युवक, गार्ड ने ‘कैच’ करके बचा ली जान

युवक ने यह कदम क्यों उठाया? यह बात उसने फेसबुक पर अपलोड किए अपने एक वीडियो के जरिए जगजाहिर की। छलांग लगाने के बाद उसे सुरक्षाकर्मी ने बचा तो लिया, लेकिन उसे हल्की-फुल्की चोटें आई हैं। फिलहाल डॉक्टर ने उसकी स्थिति खतरे से बाहर बताई है।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

तमिलनाडु के चेन्नई शहर में एक शख्स मॉल की चौथी मंजिल से कूद गया था। नीचे ड्यूटी पर तैनात सुरक्षागार्ड ने उसे इस दौरान गिरने के बाद गोद में पकड़ लिया था। अच्छी बात यह रही कि मॉल से छलांग लगाने वाले शख्स किसी अप्रिय घटना का शिकार न हुआ। हालांकि, उसे इस दौरान हल्की चोटें आई हैं। साथ ही बचाने के चक्कर में सुरक्षागार्ड भी मामूली रूप से चोटिल हुआ है।

पुलिस ने इस बाबत बताया, मॉल से छलांग लगाने वाले की पहचान 23 वर्षीय सबरीनाथन के रूप में की गई है। वह कुमाननचवडी में अपने दोस्तों के साथ रहता है। फिलहाल वह नजारथपेत स्थित डीएमआई इंजीनियरिंग कॉलेज से इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा है। शुक्रवार (11 मई) दोपहर वह वदापलानी स्थित फोरम विजया मॉल के चौथे माले से कूद गया था। नीचे भूतल पर 40 वर्षीय सुरक्षागार्ड देवासगयम अपनी ड्यूटी पर तैनात थे। अचानक उनकी नजर ऊपर से कूदे शख्स पर पड़ी, जिसके बाद उन्होंने अपनी बहादुरी और सूझ-बूझ से उसे बचाया था।

HOT DEALS
  • I Kall Black 4G K3 with Waterproof Bluetooth Speaker 8GB
    ₹ 4099 MRP ₹ 5999 -32%
    ₹0 Cashback
  • Jivi Energy E12 8 GB (White)
    ₹ 2799 MRP ₹ 4899 -43%
    ₹0 Cashback

सबरीनाथन ने यह कदम क्यों उठाया? यह बात उसने फेसबुक पर अपलोड किए अपने एक वीडियो के जरिए जगजाहिर की। 42 मिनट की वीडियो क्लिप में उसने आरक्षण व्यवस्था के बारे में बात की थी। समाज में जाति की भूमिका पर चर्चा करने के साथ उसने इस संबंध में अपना गुबार निकाला था।

यही नहीं, नीट (NEET) परीक्षा पर टिप्पणी करते हुए उसने कहा था, “कमजोर बच्चों को इसमें नुकसान होता है। स्टेट बोर्ड से पढ़ाई करने वाले छात्र इसके सिलेबस के स्तर से पढ़ाई नहीं कर पाते हैं। ऐसे में मैंने खुदकुशी की ठानी थी। मैं इसके पीछे का कारण भी बताना चाहता था।” सबरीनाथन ने इसके बाद उस क्लिप में भिखारियों, देश के न्याय तंत्र और बढ़ती रेप की घटनाएं जैसे मसलों पर अपनी बात रखी थी। फिलहाल पुलिस इस मामले में आईपीसी की धारा 309 के तहत मामला दर्ज करने की तैयारियों में जुटी है।

आपको बता दें कि शहर में यह पहला मामला नहीं है, जब किसी ने अपनी जिंदगी खत्म करने का प्रयास किया हो। अक्टूबर 2017 में इंजीनियरिंग के एक छात्र ने मॉल की तीसरी मंजिल से कूद कर आत्महत्या की कोशिश की थी। शख्स का उस दौरान अपनी प्रेमिका के साथ विवाद हुआ था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App