ताज़ा खबर
 

तमिलनाडु में कोरोना के 3,949 ताजा केस, 62 मौतें; कुल आंकड़ा पहुंचा 86,224

मंत्री ने यह भी कहा कि राज्य में कोविड-19 के मरीजों के ठीक होने की दर 57 प्रतिशत है और इस महामारी से मरने वालों की दर 1.56 प्रतिशत है, जो कि तीन प्रतिशत की राष्ट्रीय दर से कम है।

tamil nadu, tamil nadu coronavirus, karnataka coronavirus, karnataka lockdown newsकोरोना संकट के बीच सोमवार को चेन्नई में एक महिला का स्वैब सैंपल लेता हुआ स्वास्थ्य कर्मचारी। (फोटोः पीटीआई)

तमिलनाडु में 24 घंटे में कोरोना के 3,949 ताजा केस आए हैं, जबकि 62 लोगों की जान चली गई। सरकारी आंकड़ों के अनुसार, अब सूबे में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 86,224 हो गई है। वहीं, अब तक इस महामारी से 1,141 लोगों की मौत हो चुकी है।

इससे पहले, कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने सोमवार को कोरोना के मद्देनजर विभिन्न निजी अस्पतालों के प्रतिनिधियों की मीटिंग ली। यह बैठक बेंगलुरु स्थित विधानसभा में हुई। वहीं, कर्नाटक के चिकित्सा शिक्षा मंत्री के. सुधाकर ने सोमवार को कहा कि राज्य में सामने आए कोविड-19 के कुल मामलों में से 25.92 प्रतिशत मामले बेंगलुरु से हैं और सरकार कोविड-19 के मरीजों को बेहतर उपचार मुहैया कराने के लिए सभी कदम उठा रही है।

Coronavirus India LIVE Updates

मंत्री ने यह भी कहा कि राज्य में कोविड-19 के मरीजों के ठीक होने की दर 57 प्रतिशत है और इस महामारी से मरने वालों की दर 1.56 प्रतिशत है, जो कि तीन प्रतिशत की राष्ट्रीय दर से कम है। सुधाकर ने ट्वीट किया, “बेंगलुरु में 23 जून तक कोविड-19 के 1556 मामले थे जो कि 28 जून तक 3419 हो गए। कर्नाटक में सामने आए संक्रमण के कुल मामलों में से 25.92 प्रतिशत मामले बेंगलुरु से हैं। राज्य सरकार कोविड-19 के हर मरीज को बेहतर उपचार उपलब्ध कराने के लिए सभी कदम उठा रही है।”कोरोना संकट के बीच सोमवार को चेन्नई में एक महिला का स्वैब सैंपल लेता हुआ स्वास्थ्य कर्मचारी। (फोटोः पीटीआई)

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, “कर्नाटक में कोविड के मरीजों के ठीक होने की दर 57 प्रतिशत है। अब तक 7,507 मरीज ठीक हो चुके हैं और 5472 मरीजों का इलाज चल रहा है। अब तक 5,95,470 नमूनों की जांच हो चुकी है और उनमें से 5,66,543 नमूनों में संक्रमण की पुष्टि नहीं हुई है। संक्रमण की पुष्टि होने की दर 2.21 प्रतिशत है। हमारे राज्य में कोविड-19 से मृत्यु दर 1.56 प्रतिशत है जबकि राष्ट्रीय दर तीन प्रतिशत है।”

Live Blog

Highlights

    20:27 (IST)29 Jun 2020
    कोविड-19 मरीजों के इलाज में सिद्ध के प्रयोग पर अध्ययन शुरू करेगा सीसीआरएस

    यहां सरकारी कोविड-19 देखभाल केंद्र में एलोपैथिक इलाज में चिकित्सीय पद्धति सिद्ध की ‘अतिरिक्त’ थेरेपी से प्रोत्साहित करने वाले परिणाम सामने आने के बाद केंद्रीय सिद्ध अनुसंधान परिषद (सीसीआरएस) शहर के व्यसारपादी में जल्द ही कोरोना वायरस के 60 मरीजों पर एक अध्ययन शुरू करेगा। नये क्लिनिकल ट्रायल का मकसद सिद्ध दवा समूहों और “काबासूरा कुडिनीर” के कोविड-19 से बचाव या उसके इलाज में रोग निरोधक प्रभाव को सामने लाना है। सरकारी स्टेनली मेडिकल कॉलेज अस्पताल में कोविड-19 देखभाल केंद्र में अतिरिक्त थेरेपी देने का पूर्व में प्रयास किया गया था। काबासूरा कुडिनीर जड़ी-बूटी से बना एक मिश्रण है जिसमें अदरक, पिपली, लौंग, सिरकूनकोरी की जड़ और कई अन्य जड़-बूटियां शामिल हैं।

    20:15 (IST)29 Jun 2020
    तमिलनाडु में लॉकडाउन के विस्तार की सिफारिश नहीं: विशेषज्ञ समिति सदस्य

    कोविड-19 महामारी से निपटने के संबंध में तमिलनाडु सरकार को सुझाव देने के लिए गठित विशेषज्ञ समिति कुछ खास क्षेत्रों में स्थिति के अनुसार प्रतिबंध लागू रखने के पक्ष में है लेकिन उसने मंगलवार तक लागू लॉकडाउन को राज्य में और विस्तार दिए जाने की सिफारिश नहीं की है। समिति के एक सदस्य ने यह जानकारी दी। मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी की अध्यक्षता में यहां हुई बैठक में हिस्सा लेने के बाद आईसीएमआर के राष्ट्रीय महामारी विज्ञान संस्थान की डॉ प्रभदीप कौर ने कहा कि समिति ने शहर में चलाए जा रहे बुखार शिविरों (फीवर कैंप) की ''कामयाब पहल'' को राज्य के अन्य भागों में विस्तार देने की भी सिफारिश की है। बैठक में विश्व स्वास्थ्य संगठन की प्रमुख वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन समेत अन्य विशेषज्ञों ने भी वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए हिस्सा लिया। उन्होंने कहा कि शिविर कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों का जल्द पता लगाने और मामले दुगुना होने के समय को बढ़ाने में भी सहायक साबित हो रहे हैं।

    19:41 (IST)29 Jun 2020
    कर्नाटक के मंत्री ने सात जुलाई के बाद कड़े कदम उठाने का संकेत दिया

    कर्नाटक के राजस्व मंत्री आर अशोक ने सोमवार को कहा कि कोविड-19 के मामलों में वृद्धि के मद्देनजर इस शहर और राज्य के अन्य हिस्सों में उसके प्रसार को नियंत्रित करने के लिए सात जुलाई के बाद और कड़े नियम लाये जाने की संभावना है। खबरों के अनुसार राज्य सरकार इस संक्रमण पर काबू पाने के लिए कुछ कठोर कदम उठाने के लिए चार जुलाई को एसएसएलसी की परीक्षा के समाप्त हो जाने का इंतजार कर रही है। कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच अंतर-राज्यीय यात्रा पर रोक जैसी पाबंदियों के बारे में पूछे जाने पर अशोक ने कहा, ‘‘ इन सभी बातों के लिए मैं समझता हूं कि आपको बच्चों के हित में सात जुलाई तक प्रतीक्षा करनी होगी। सात जुलाई के बाद मुख्यमंत्री विभिन्न बदलाव करने का निर्णय लेंगे।’’

    18:45 (IST)29 Jun 2020
    तमिलनाडु में आज 3949 ताजा केस, 62 मौतें

    18:17 (IST)29 Jun 2020
    पीयूसी, एसएसएलसी नतीजे कुछ हफ्तों में: कर्नाटक के मंत्री

    कर्नाटक के प्राथमिक और माध्यमिक शिक्षा मंत्री एस सुरेश कुमार ने सोमवार को कहा कि दूसरे पूर्व विश्वविद्यालय पाठ्यक्रम (पीयूसी) और सेकंडरी स्कूल लीविंग सर्टिफिकेट (एसएसएलसी) परीक्षा के नतीजे जुलाई के अंत और अगस्त के पहले हफ्ते तक आएंगे। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड और अन्य राज्यों के बोर्ड की तरह 10वीं और 12वीं के छात्रों को समान्य प्रोन्नति देने के बजाए कर्नाटक सरकार ने कोरोना वायरस के खतरे की अनदेखी करते हुए परीक्षाएं कराने का फैसला किया था। मंत्री ने बेंगलुरु में संवाददाताओं को बताया, “हम अगस्त के पहले हफ्ते तक एसएसएलसी के नतीजे घोषित करने का प्रयास कर रहे हैं। पूर्व विश्वविद्यालय पाठ्यक्रम के परिणाम जुलाई के अंतिम हफ्ते में आएंगे।” सरकार के निर्देश के बावजूद स्कूलों के फीस बढ़ाने की खबरों पर मंत्री ने कहा कि उन्हें पता चला है कि 1,150 विद्यालयों ने फीस बढ़ाई है जिनमें से 450 के खिलाफ कार्रवाई की गई है।

    18:07 (IST)29 Jun 2020
    'लॉकडाउन नहीं है कोरोना का इकलौता हल'

    WHO चीफ साइंटिस्ट सौम्य स्वामिनाथन ने कहा है कि उनकी समिति ने लॉकडाउन की सिफारिश नहीं की है। कोरोना के लिए यह इकलौता हल नहीं है। हम हर समय इसके तहत नहीं रह सकते। स्वामिनाथन ने ये टिप्पणी तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ने ई.के पलानीसामी की अध्यक्षता वाली राज्य को सलाह-मशविरे वाली (कोरोना, लॉकडाउन पर) एक्सपर्ट कमेटी बैठक के दौरान कही।

    Next Stories
    1 बिहार चुनावः पार्टी में अंदरुनी कलह के बीच तेज प्रताप ने किया भाई तेजस्वी यादव के सीएम उम्मीदवारी का ऐलान
    2 Maharashtra Lockdown Guidelines & Rules: महाराष्ट्र में बिना और रियायत के लॉकडाउन 31 जुलाई तक बढ़ाया गया
    3 Bihar, Jharkhand Coronavirus Highlights: रोज 15 हजार करें कोरोना जांच, सीएम नीतीश का स्वास्थ्य अधिकारियों को निर्देश
    IPL 2020
    X