तमिलनाडु: डॉ. कलाम के स्‍कूल की बिजली कटी, गांववाले बोले- सरकार ने ली थी जिम्‍मेदारी

रामेश्वरम स्थित डॉक्टर कलाम के अलमा मैटर ‘मंडपम पंचायत यूनियन मिडिल स्कूल’ की बिजली का बिल स्कूल प्रबंधन ने पिछले दो साल से नहीं भरा था, इसलिए बिजली बोर्ड ने स्कूल की बिजली का कनेक्शन काट दिया।

इसी स्कूल में डॉक्टर कलाम ने बचपन में शिक्षा ग्रहण की थी। (फोटो सोर्स- एएनआई)

पूर्व राष्ट्रपति डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम ने बचपन में जिस स्कूल में पढ़ाई की थी, उसकी बिजली काटे जाने की खबर है। समाचार एजेंसी एएनआई की खबर के मुताबिक रामेश्वरम स्थित डॉक्टर कलाम के अलमा मैटर ‘मंडपम पंचायत यूनियन मिडिल स्कूल’ की बिजली का बिल स्कूल प्रबंधन ने पिछले दो साल से नहीं भरा था, इसलिए बिजली बोर्ड ने स्कूल की बिजली का कनेक्शन काट दिया। ग्राम शिक्षा समिति के अध्यक्ष ने मीडिया को बताया- ”पहले हम बिल का भुगतान किया करते थे, लेकिन जब सरकार ने स्कूल की जिम्मेदारी उठा ली तो बिल भरना बंद कर दिया। फिलहाल 10 हजार रुपये के बिजली के बिल का भुगतान किया जाना बाकी है। हमने बिजली बोर्ड से संपर्क किया है और वे केवल 5 दिनों के लिए बिजली मुहैया कराने के लिए सहमत हुए हैं।” मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 1946 से 1950 तक डॉक्टर कलाम ने इसी स्कूल में शिक्षा ग्रहण की थी।

डॉक्टर कलाम जब राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार चुने गए थे तब वह एक बार इस स्कूल में आए थे और बच्चों से मिलकर भारत के लिए अपना विजन शेयर किया था। डॉक्टर कलाम का बचपन बेहद मुफलिसी में गुजरा था और उन्हें अपनी पढ़ाई जारी रखने के लिए अखबार बांटने का काम करना पड़ा था।

बता दें कि इससे पहले डॉक्टर कलाम का यह स्कूल तब सुर्खियों में आया था जब अभिनेता और नेता कमल हासन ने अपनी पार्टी के नाम की घोषणा करने से पहले पूर्व दिवंगत राष्ट्रपति के घर और स्कूल का दौरा करने की बात कही थी। लेकिन बाद में बताया गया था कि समय की कमी के चलते वह स्कूल नहीं जा पाएंगे। हालांकि तमिलनाडु सरकार की ओर से भी हासन को इस स्कूल का दौरा करने की अनुमति नहीं मिल पाई थी। सरकार की तरफ से कहा गया था कि स्कूल परिसर में राजनीतिक कार्यक्रम नहीं किए जा सकते हैं।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।