ताज़ा खबर
 

जीते तो पार्टी के जिला पदाधिकारियों को देंगे इनोवा कार!, राज्य में 25 विधायक का टार्गेट लेकर चल रही भाजपा

प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि अगले विधानसभा चुनाव में हमारा लक्ष्य कम से कम 25 विधायकों का होना चाहिए। इससे पार्टी उस स्थिति में आ जाएगी जिससे वह यह तय कर सकेगी कि राज्य में किसकी सरकार बनेगी।

bjp chief, murugan, bjp mla, amit shah, aiadmkमुरुगन राज्य और जिला स्तरीय पदाधिकारियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। (फाइल फोटो)

तमिलनाडु में अगले साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। हालांकि, भाजपा ने अभी से ही इसको लेकर तैयारियां शुरू कर दी है। पार्टी ने अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में कम से कम 25 सीट जीतने का लक्ष्य तय किया है।

पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष एल मुरुगन ने इसके लिए खास तैयारी की है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मुरुगन ने विधानसभा में पार्टी के उम्मीदवार की जीत पर जिला पदाधिकारियों को एक-एक इनोवा कार देने का वादा किया है। मुरुगन ने यह बात रविवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये हुए बैठक में कही। बैठक में राज्य और जिला स्तरीय पदाधिकारी मौजूद थे। मीडिया रिपोर्ट में पार्टी सूत्रों के हवाले से बताया गया कि मुरुगन ने चुनाव में पार्टी पदाधिकारियों से जमकर मेहनत करने को कहा है।

उन्होंने कहा कि अगले विधानसभा चुनाव में हमारा लक्ष्य कम से कम 25 विधायकों का होना चाहिए। इससे पार्टी उस स्थिति में आ जाएगी जिससे वह यह तय कर सकेगी कि राज्य में किसकी सरकार बनेगी। इस संदर्भ में ही उन्होंने विधायक बनने पर संबंधित जिले के पदाधिकारी को इनोवा कार देने का वादा कर दिया।

मालूम हो कि तमिलनाडु की राजनीति में इस तरह के ईनाम कोई नई बात नहीं है। राज्य के दो बड़े दल एआईडीएमके और डीएमके, चुनाव प्रचार अभियान में शामिल पार्टी पदाधिकारियों को सोने की अंगूठी और चेन की पेशकर कर चुके हैं। लेकिन शायद यह पहला मौका है जब भाजपा ने इस तरह के ईनाम की घोषणा की है।

भाजपा दक्षिण भारत के इस राज्य में अपनी उपस्थिति दर्ज कराने की पुरजोर कोशिश कर रही है। यहां पार्टी को अभी तक मन मुताबिक चुनावी सफलता नहीं मिली है। यहां भाजपा अभी एआईएडीएमके के साथ चुनावी गठबंधन में हैं। हाल में वेटरीवल यात्रा के बाद से दोनों दलों के बीच कुछ मतभेद सामने आए हैं।

एआईएडीएमके ने अपने मुखपत्र में लिखा कि तमिलनाडु ऐसी किसी भी यात्रा को अनुमति नहीं देगा जो लोगों को जाति और धर्म के नाम पर बांटने का काम करती हो। हालांकि भाजपा चाहती है कि एआईएडीएमके के साथ उसका गठबंधन बना रहे। इस पूरे घटनाक्रम के बीच अमित शाह 21 नवंबर को तमिलनाडु पहुंच पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 नीतीश आउटगोइंग सीएम, कब जाएंगे यह देखना है- पत्रकार ने दी राय तो, बोलीं एंकर- आपने तो बम फोड़ द‍िया
2 क्या हैं बिहार में दो डिप्टी सीएम के मायने? डिबेट में एंकर ने पूछा सवाल तो भाजपा नेता जफर इस्लाम ने दिया यह जवाब
3 पटना में खुद हाथ से इशारे कर शारीर‍िक दूरी बनाने की कोश‍िश करते देखे गए अम‍ित शाह, सि‍क्‍योर‍िटी को भी करनी पड़ी मशक्‍कत
ये पढ़ा क्या?
X