तमिलनाडु विधानसभा चुनाव लड़ रहे इन नेता जी के वादे सुनिए- हेलिकॉप्टर, एक करोड़ नकद, तीन मंजिल का घर, और चांद का सफर…

दक्षिण मदुरै निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे थुलम सरवनन ने वादों की लंबी लिस्ट तैयार की है। जिसमें वे लोगों को एक मिनी हेलीकॉप्टर, सालाना एक करोड़ रुपये, शादियों के लिए सोने के गहने, तीन मंजिला घर और चंद तक के सफर का वादा कर रहे हैं।

thulam saravanan, Tamil Nadu assembly election 2021,election promise,Madurai south constituency, jansatta
थुलम सरवनन ने लोगों से ऐसे-ऐसे चुनावी वादे किए जिसके चलते वे सुर्खियों में आ गए हैं। (thulam saravanan/ facebook)

चुनाव के दौरान वोटरों का वोट पाने के लिए कैंडिडेट्स क्या-क्या नहीं करते हैं। जिस समय वे प्रचार के लिए वोटरों के पास जाते हैं, उस समय उन्हें अपनी ओर करने के लिए कई हथकंडे अपनाते हैं। ऐसा ही कुछ तमिलनाडु विधानसभा चुनाव लड़ रहे एक नेता ने किया है। निर्दलीय उम्मीदवार थुलम सरवनन ने लोगों से ऐसे-ऐसे चुनावी वादे किए जिसके चलते वे सुर्खियों में आ गए हैं।

एनडीटीवी की एक रिपोर्ट के मुताबिक दक्षिण मदुरै निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे थुलम सरवनन ने वादों की लंबी लिस्ट तैयार की है। जिसमें वे लोगों को एक मिनी हेलीकॉप्टर, सालाना एक करोड़ रुपये, शादियों के लिए सोने के गहने, तीन मंजिला घर और चंद तक के सफर का वादा कर रहे हैं। इस निर्वाचन क्षेत्र से 13 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं लेकिन अपने घोषणापत्र और वादों के चलते थुलम सबसे ज्यादा चर्चा में हैं।

33 वर्षीय थुलम सरवनन ने एनडीटीवी से बात करते हुए कहा “मेरा उद्देश्य लोगों के बीच जागरूकता बढ़ाना है। लोगों को मुफ्त समान देने वाले राजनीतिक दलों से बचना चाहिए। मैं चाहता हूं कि वे अच्छे उम्मीदवार चुनें जो साधारण और विनम्र हो। थुलम ऐसे वादे कर के उन नेताओं के बारे में लोगों को बताना चाहते हैं जो लंबे-लंबे वादे करते हैं। उनका चुनाव चिन्ह भी ‘कूड़ेदान’ है। उनका नारा है कि यदि आप उन वादों के झांसे में आकार अपना वोट देना चाहते हैं तो अपना वोट कूड़ेदान में फेंक दें।

उन्होंने अपने निर्वाचन क्षेत्र को ठंडा रखने के लिए 00 फुट ऊंचा एक बर्फ का पहाड़, हर परिवार को एक नाव, गृहिणियों के काम का बोझ कम करने के लिए एक रोबोट, एक स्पेस सेंटर और एक रॉकेट लॉन्च पैड देने का भी वादा किया है। सरवनन ने अभी तक शादी नहीं की है और वह अपने रीब बुजुर्ग माता-पिता के साथ रहते हैं। सरवनन ने बताया कि नामांकन पत्र दाखिल करने के लिए उन्होने ब्याज में पैसा उधार लिया है।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट